Tuesday , December 12 2017

डच संसद में तुर्कियों पर नस्लवादी टिप्पड़ी, मचा हंगामा

डच सांसद टुनहन कुजू ने डच संसद में नस्लवादी टिप्पड़ी करने पर राजनीतिज्ञ गीर्ट वाइल्डरस को संबोधन के दौरान चुप करा दिया| उन्होंने संसद में उपस्थित तुर्कियों को लेकर टिप्पड़ी किया था| कुजू भी तुर्की से सम्बन्ध रखते हैं| इस्लामिक विरोधी विचारों के लिए खासा सुर्ख़ियों में रहते हैं|

उन्होंने डच संसद में अपने संबोधन के दौरान कहा कि वह डच में तुर्क या स्वीडन नहीं चाहते हैं| आगे उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि यह नीदरलैंड की संसद है, आपको यहां डच होना है। संसद में तुर्क, मोरक्कन या एक स्वीडन नहीं चाहता उन्हें यह भी कहने का अधिकार नहीं है? यह मेरा देश है| डच विधायक ने यह भी बताया कि डच संसद के सदस्यों की दोहरी नागरिकता है लेकिन उन्हें अपने देश और संसद के पार्टी वफादार होना चाहिए| बल्कि दो देशों के लिए नहीं| वाइल्डरस ने कहा कि तुर्कियों को अपनी अन्य राष्ट्रीयता को छोड़ देना चाहिए| डच के नेता टुनाहन कुजू ने की गयी जातीय टिप्पड़ी को अस्वीकार कर दिया|

उन्होंने कहा कि दोहरी नागरिकता से किसी व्यक्ति पर देश के लिए वफ़ादारी पर उंगली नहीं उठा सकते| और न ही उसकी वफ़ादारी को दोहरी नागरिकता के बल पर मापा जा सकता है| कुजू ने कहा कि डच विधायक बनने के लिए कौन डच है या कौन क्या है ये संविधान तय करता है वाइल्डरस नहीं|

TOPPOPULARRECENT