Tuesday , April 24 2018

झूटी खबरें दिखाने की वजह से विदेशो में भारतीय मीडिया की हो रही थू थू

किसी भी मीडिया संस्थान द्वारा खबर को अपने हिसाब से तोड़ मरोड़ कर पेश करना या फिर उसमें कुछ भी फर्जी खबर दे देना, यह सब खबरे गलत होने के साथ ही लोगों से जुड़े होने के कारण उनकी छवि को भी नुकसान पहुंचाता हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें फर्जी खबर चलाने के मामले में सयुंक्त राष्ट्र अरब अमीरात के दूतावास ने अपना गुस्सा जाहिर किया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

खबर के मुताबिक, यूएई के प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान को लेकर कहा गया था कि, उन्होंने पीएम मोदी की स्पीच से पहले जय श्री राम के नारे लगाए थे। इस बात पर प्रतिकिया देते हुए यूएई अंबेसी ने इस बात को पूरी तरह से नकारा है। उनहोंने फर्जी खबर चलाने को लेकर इन सभी के साथ अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए सख्त चेतावनी भी दी है। इन मीडिया संस्थानों की बात की जाए तो इसमें टाइम्स नाउ, जनसत्ता, जी न्यूज के साथ ही कुछ और भी मीडिया के संस्थान शामिल हैं।

यूएई की मीडिया ने इस पर कहा था कि, भारत के कई मीडिया संस्थान ने एक ही समय में ये फेक खबर चलाई और सोशल मीडिया का ट्रेंड भी देखकर यह एहसास होता है कि इस खबर को एक ही तरह के वर्ग ने वायरल किया है और सभी यूजर ने इस खबर को शेयर करते हुए इसे पीएम मोदी की उपलब्धि बताया है।

बता दें कि शेख मोहम्मद बिन यूएई के एक शक्तिशाली प्रिंस होने के साथ ही वे सेना के डिप्टी कमांडर भी हैं। शेख मोहम्मद बिन को लेकर खबर काफी प्रसारित की गई थी। जिसे भाजपा समर्थकों ने इसे मोदी की शक्तिशाली छवि होने को जोड़कर सोशल मीडिया पर काफी वायरल किया था।

TOPPOPULARRECENT