सवर्ण जातियों द्वारा बंद के दौरान कई जगहों पर हुए हिंसा में अब तक दर्जन भर घायल

सवर्ण जातियों द्वारा बंद के दौरान कई जगहों पर हुए हिंसा में अब तक दर्जन भर घायल

नई दिल्ली: देशभर में आरक्षण को खत्म करने के लिए सवर्ण समुदाय द्वारा विभिन्न शहरो में किये जा रहे आन्दोलन के दौरान कई ज़गहों पर हिंसा की खबर सामने आई है। जिसमे अब तक दर्जन भर लोगों के घायल हुए हैं। बिहार के कई जिलों में आरक्षण विरोधी प्रदर्शनकारी आरक्षण हटाओ देश बचाओ के नारे लगा रहे हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

जाति के आधार पर नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण के विरोध में बिहार के आरा में विरोध-प्रदर्शन कर रहे हजारों प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोक कर परिचालन बाधित कर दिया है। आरा में प्रदर्शनकारियों के हमले में 6 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। आरा में आरक्षण विरोधी प्रदर्शन के चलते दो संगठनों में मुठभेड़ में गोलीबारी भी की गई। आरा में धारा-144 लागू करने के साथ साथ पांच लोगों के इकट्ठा होने पर भी पाबंदी लगा दी गई है। जबकि इस प्रदर्शन को लेकर कैमूर एनएच-219 पर भयंकर जाम लगा है।

उधर भारत बंद के चलते मध्य प्रदेश के भिंड और मुरैना में कर्फ्यू लगा दिया गया है। हिंसा की आशंका को देखते हुए मेरठ में दुकानें बंद, सुरक्षाकर्मी चप्पे-चप्पे पर तैनात, मथुरा में भी दुकानें बंद हैं। लोगों के एक जगह एकट्ठा होना तो मनाही है।
वहीँ ग्वालियर में स्थिति तनावपूर्ण होते देख प्रशासन ने धारा- 144 लगा दी है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद, इलाहबाद तथा राजस्थान के कई हिस्सों में भी धारा- 144 लागू कर दिए गये हैं।

Top Stories