गुजरात इलेक्शन से पहले 3500 VVPAT मशीनों में मिली ख़राबी, चुनाव आयोग ने वापस भेजा

गुजरात इलेक्शन से पहले 3500 VVPAT मशीनों में मिली ख़राबी, चुनाव आयोग ने वापस भेजा
Click for full image

गुजरात में विधानसभा चुनाव की तैयारियां अपने चरम पर हैं| राजनीतिक पार्टियों के साथ साथ चुनाव आयोग भी विधानसभा चुनाव को लेकर सख्त है| गुजरात में 9और 14 दिसंबर को चुनाव होने हैं जिसका परिणाम 18 दिसंबर को आयेगा| चुनाव से ठीक पहले गुजरात चुनाव में इस्तेमाल की जाने वाली 3550 वीवीपीएटी मशीनों में ख़राबी पाई गयीं| चुनाव आयोग ने इन ख़राब मशीनों को वापिस भेज दिया है सही करने के लिए| मीडिया के अनुसार ख़राब मशीनें जामनगर, देवभूमि,द्वारका और पाटन के ज़िले में पाई गयीं|

2014 लोकसभा चुनाव के बाद और 2017 यूपी विधानसभा में बीजेपी के जीतने के बाद चुनाव मशीनों पर काफी सवाल उठाये गए थे जिस वजह से इस बार चुनाव आयोग मशीनों को लेकर सजग है| आधिकारी ने बताया कि गुजरात में विधानसभा चुनाव के लिए कुल 70,182 वीवीपीएटी मशीनें इस्तेमाल की जाएँगी|

एक वरिष्ठ चुनाव अधिकारी के अनुसार खराब पाई गईं वीवीपीएटी मशीनों में सेंसर के काम न करने, प्लास्टिक के पुर्जों के टूटे हुए होने और मतदान पेटी (ईवीएम) से जोड़ने में दिक्कत होने जैसी समस्याएं पाई गईं।

गुजरात विधानसभा चुनाव दो चरणों में होंगे | पहले चरण का मतदान नौ दिसंबर को होगा जिसमें कुल 89 सीटों पर वोटिंग होगी। दूसरे चरण का मतदान 14 दिसंबर को होगा जिसमें बाकी 93 सीटों के लिए वोटिंग होगी| चुनाव के परिणाम 18 दिसंबर घोषित किये जायेंगे|

 

Top Stories