रिटायर्ड मेजर जनरल का विवादित बयान, कहा- ‘बलात्कार के बदले बलात्कार’, मचा हंगामा

रिटायर्ड मेजर जनरल का विवादित बयान, कहा- ‘बलात्कार के बदले बलात्कार’, मचा हंगामा

एक टीवी न्यूज चैनल में डिबेट के दौरान भारतीय सेना के रिटायर्ड मेजर जनरल ने कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचार पर शर्मनाक बयान दिया।  उन्होंने कश्मीरी पंडितों के खिलाफ अत्याचार का बदला लेने के लिए मुसलमानों की हत्या और बलात्कार की वकालत करने वाली टिपण्णी की जिसके चलते अब रिटायर्ड मेजर को चौतरफा आलोचना का सामना करना पड़ा रहा है। दरअसल रिटायर्ड मेजर जनरल एसपी सिन्हा एक न्यूज चैनल पर डिबेट के दौरान ‘मौत के बदले मौत’ और ‘बलात्कार के बदले बलात्कार’ कहते हुए पाए गए।

रिटायर्ड मेजर सिन्हा के इस बयान के तुरंत बाद ही डिबेट में हंगामा हो गए। वहां मौजूद तमाम पैनलिस्ट ने मेजर के इस बयान का विरोध करना शुरू कर दिया। तो साथ ही डिबेट की महिला एंकर भी मेजर सिन्हा पर भड़कती नजर आई। और फिर महिला एंकर ने एसपी सिन्हा को शांत करवाने की कोशिश की। वही अब टीवी डिबेट का ये वीडियो सोशल मीडिया पर भी जमकर वायरल हो रहा है। जिसे देख हर कई एसपी सिन्हा पर जमकर लताड़ रहा है। इस वीडियो को कुमार विश्वास ने भी ट्वीट किया। इस दौरान कुमार विश्वास ने एसपी सिन्हा की आलोचना की। उन्होंने लिखा, ‘जहालत चरम पर है। सबको मसीहा बनने की इतनी जल्दी है कि क़ानून, संविधान-भारतीयता सबको रौंदने पर आमादा हैं।’

हालांकि इस बयान के बाद सेना के कई पूर्व अधिकारियों ने भी सोशल मीडिया पर एसपी सिन्हा को लताड़ लगाई। श्रीनगर स्थित 15 कोर के पूर्व प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल सैयद अता हसनैन (रिटायर्ड) ने ट्वीट कर एसपी सिन्हा को फटकार लगाई। उन्होंने लिखा कि आतंकवाद-रोधी अभियानों में शामिल लोग जानते हैं कि यह सब क्या है और कभी कभी यह लगता है कि सार्वजनिक मंचों पर नहीं बोलने की पाकिस्तानी सेना की प्रणाली ठीक है। ऐसे लागों से बचना चाहिए।

इसके अलावा सैन्य अभियान के पूर्व महानिदेशक और अवकाश प्राप्त लेफ्टिनेंट जनरल विनोद भाटिया ने सिन्हा को आड़े हाथों लिया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘असंवेदनशील एवं दुर्भाग्यपूर्ण। उन्होंने कहा कि वह इस बात से आश्वस्त हैं कि वह (सिन्हा) कभी आतंकवाद निरोधी अभियान में शामिल नहीं रहे होंगे।