मेनका गांधी ने बोला झूठ, कहा- कश्मीर के BSP टॉपर की बहन को धमका रहे आतंकी, परिवार बोला- यह गलत है

मेनका गांधी ने बोला झूठ, कहा- कश्मीर के BSP टॉपर की बहन को धमका रहे आतंकी, परिवार बोला- यह गलत है
Click for full image

सोशल मीडिया पर मकड़जाल की तरह फैले फ़र्जी अकाउंट के बाद अब लगता है कि केन्द्रीय मंत्रालय भी अफवाह फ़ैलाने के काम में लग गया है।

ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय की तरफ से किए गए ट्वीट देखकर तो कुछ ऐसा ही लगता है।

मामला कुछ यूँ हैं कि मंत्रालय ने दावा किया कि कश्मीर के बीएसएफ के एंट्रेस टॉपर नबील की बहन को आतंकियों ने धमकी दी है। इसलिए उसने बहन के रहने के लिए कॉलेज हॉस्टल दिलाने में मंत्रालय की मदद मांगी।

मंगलवार को मंत्रालय की ओर से किए गए ट्वीट में लिखा गया- “नबील अहमद वानी बीएसएफ में कमांडेंट है और उनकी बहन चंडीगढ़ में इंजीनियरिंग स्टूडेंट है।

आगे के ट्वीट में बताया गया- ‘उन्होंने (वानी) आतंकी धमकी मिलने के बाद मेनका गांधी से बहन को हॉस्टल दिलाने का आग्रह किया। जिसके बाद मेनका गांधी ने इस मामले को लेकर कॉलेज प्रशासन से बात की और जवान की बहन को हॉस्टल में रहने की इजाजत दे दी गई।’

मंत्रालय ने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा- “पीएम नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन और नेतृत्व में हमारा कर्तव्य है कि सैनिकों के परिवारों की रक्षा की जाए जो हमारे देश की रक्षा करते हैं।”

हालाँकि जब इस बात की खबर जवान और उसके परिवार के लोगों को हुई तो उन्होंने तुरंत मंत्रालय के दावे और किसी भी आतंकी धमकी को सिरे से खारिज कर दिया है।

इस बारे में नबील का कहना है कि उन्हें या उनके परिवार को किसी तरह की आतंकी धमकी नहीं मिली है। यह दावा महज़ एक एक अफवाह है। मुझे किसी आतंकी से धमकी नहीं मिली है।

उन्होंने बताया कि मेरी बहन फाइनल ईयर की स्टूडेंट है और उसे साथियों के साथ हॉस्टल खाली करने के लिए कहा गया था। इसके लिए केंद्रीय मंत्री को मेल भेजा और उन्होंने मेरी मदद की।

वहीँ, उनकी मां हनीफा बेगम ने इंडियन एक्सप्रेस से फोन पर बातचीत में कहा, “मैं हैरान हूं कि ये सब कहां से आया। जब ऐसा कुछ है ही नहीं, तो झूठ क्यों बोले हम।”

बता दें कि बीएसएफ असिस्टेंट कमांडेंट की ट्रेनिंग ले रहे है नबील बीएसएफ 2016 के टॉपर रहे हैं।

Top Stories