मशहूर आलिमे दीन मौलाना सालिम कासिमी का इंतेकाल, 10 बजे रात में होगी नमाज़े जनाज़ा

मशहूर आलिमे दीन मौलाना सालिम कासिमी का इंतेकाल, 10 बजे रात में होगी नमाज़े जनाज़ा
Click for full image

एशिया के मशहूर आलिमे दीन मौलाना मोहम्मद सालिम कासमी लंबी बीमारी के बाद आज लगभग पौने तीन बजे 92 साल की उम्र में इस दुनियां से चल बसे, जिससे पूरी इल्मी दुनिया में शोक में डूब गई है, और हर कोई इससे चिंतित है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

प्राप्त सूचना के अनुसार नमाज़े जनाज़ा आज रात में दस बजे होगी। मौलाना के ख़ास सेवक मौलाना इस्माइल कासिमी ने इस खबर की पुष्टि की। मौलाना मोहम्मद सालिम कासमी दारुल उलूम देवबंद के संस्थापक मुहम्मद कासिम नानौत्वी (रह) के परपोते और पूर्व क्यूरेटर हकीम उल इस्लाम मौलाना कारी मोहम्मद तैयब रहमतुल्ला अलैह के पुत्र थे।

दारूल उलूम वक्फ देवबंद के प्रबंधक, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष और इस्लामिक न्यायशास्त्र अकादमी के अभिभावक सहित दसियों संस्था के ज़िम्मेदार व अभिभावक थे। इनको उपमहाद्वीप के लोकप्रिय और प्रतिष्ठित आलिमे दीन में गिना जाता था, इन्होने दसियों केताबें और हजारों लेख आपने लिखे हैं।

मौलाना ने लंबे समय तक दारुल उलूम वक्फ में बुखारी शरीफ बढ़ाया है। आप के शागिर्द हजारों की संख्या में पूरी दुनिया फैले हुए हैं। इनकी मृत्यु की खबर बिजली की तरह पूरी दुनिया में फैल गई है। सोशल मीडिया पर यूजर्स इसकी मृत्यु को मिल्लते इस्लामिया के लिए एक बड़ा घाटा बता रहे हैं।

Top Stories