उर्दू के महान कवि अब्दुल देसनवी को गूगल का सलाम डूडल बना कर मनाया जन्मदिन

उर्दू के महान कवि अब्दुल देसनवी को गूगल का सलाम डूडल बना कर मनाया जन्मदिन
Click for full image

नई दिल्ली: गूगल डूडल पर किसी व्यक्ति का जन्मदिन मनाना उस व्यक्ति की महानता का परिचय देता है| ऐसे ही आज गूगल डूडल ने एक महान व्यक्ति का जन्मदिन मनाया है| आज अब्दुल कावी  देसनवी के जन्मदिन का जश्न मना रही है|  डूडल ने बताया कि ऐसा लगता है कि देसनवी हमारे बीच में बैठे हैं और लिख रहे हैं।

उनकी लेखनी हमेशा मेरे साथ रहेगी|अब्दुल कावी देसनवी एक प्रसिद्ध भारतीय उर्दू भाषा के कवि, ग्रंथ सूचीकर और कई भषाओं के ज्ञानी थे| उन्होंने अपने जीवनकाल में कई किताबे लिखी हैं| उनका महत्वपूर्ण योगदान मौलाना अबुल कलाम आज़ाद, मिर्जा गालिब और सर मोहम्मद इकबाल के बारे में हैं। देसनवी जी का जन्म 1 नवंबर 1930 को बिहार के देसा गांव में हुआ था। उनके पिता, सैयद मोहम्मद सईद रजा, सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई में उर्दू, अरबी और फारसी भाषा के प्रोफेसर थे।

1961 में, सेंट जेवियर्स से अपनी कॉलेज की शिक्षा पूरी करने के बाद अब्दुल कावी देसनवी ने सैफिया पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज, भोपाल में उर्दू विभाग में शामिल हो गए। अब्दुल कावी ने भोपाल में 7 जुलाई 2011 को अपनी अंतिम सांस ली|

 

Top Stories