Thursday , December 14 2017

महापंचायत का तालिबानी फ़रमान, 5 साल की बेटी की शादी कराने पर ही समाज में वापसी होगी

गुना: 5 साल के बेटी की शादी 8 साल के बच्चे से करानी होगी। जी हां ये तालिबानी फ़रमान गुना के तारपुर गांंव में हुई महापंचायत ने सुनाया है।  बंजारा समाज की महापंचायत ने एक परिवार को समाज में दोबारा शामिल करने के बदले ये फ़रमान सुनाया। 3 साल पहले एक बछड़े की मौत के बाद पीड़ित परिवार को समाज से बाहर कर दिया गया था ।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ 18 की खबर के मुताबिक़ गांव में हुई महापंचायत ने पीड़ित परिवार से अपनी 5 साल की बेटी की शादी 8 साल के बच्चे से करने का फरमान सुनाया। साथ ही परिवार को एक लाख रुपए दहेज देने का आदेश भी दिया।

बताया जाता है कि तीन साल पहले जगदीश बंजारा ने गेहूं की फसल चर रहे गाय के बछड़े को पत्थर मार दिया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। बछड़े की मौत के बाद से पंचायत ने जगदीश के परिवार का सामाजिक बहिष्कार कर दिया।

तीन साल से सामाजिक बहिष्कार का दंश झेल रहे परिवार ने जब पांच साल की बेटी की शादी का फरमान सुना तो उनके होश उड़ गए । जगदीश बंजारा ने ज़िला मुख्यालय पहुंचकर अधिकारियों से शादी रुकवाने की गुहार लगाई है।

शिकायत मिलने के बाद अधिकारियों की टीम गांव पहुंची और जांच में शिकायत को सही पाया। अधिकारियों ने ग्रामीणों को चेतावनी दी है कि अगर बच्चों की शादी करवाई तो उनके खिलाफ़ कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।

समाज ने उस समय महापंचायत कर दोबारा समुदाय में शामिल होने के लिए गंगा स्नान और पूरे गांव को भंडारे का फरमान सुनाया था। जिसका पालन जगदीश ने किया था, गंगा स्नान भी किया और भंडारा भी करवाया।

लेकिन उसके बाद भी समुदाय के लोगों ने गांव में सभी तरह के लेनदेन और गांव के हैंडपंप से पानी लेना भी बंद करा दिया था।

 

TOPPOPULARRECENT