Saturday , November 18 2017
Home / GUJRAT / PM मोदी के गुजरात में किसान ने सचिवालय में खाया ज़हर

PM मोदी के गुजरात में किसान ने सचिवालय में खाया ज़हर

मोदी सरकार में पहले बदहाल किसानों को हालत और ख़राब होती जा रही है। बीते तीन सालों में किसानों की ख़ुदकुशी के मामलो में इज़ाफा हुआ है।

हालाँकि पीएम मोदी अपने भाषणों में किसानों को रिझाने के लिए तमाम वादे कर चुके हैं लेकिन फिलहाल उनका हालत में कोई सुधार आता नहीं दिख रहा है. वहीँ बड़ी बात यह कि मोदी के गुजरात से भी इस तरह की ख़बरें आने लगी हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को गुजारत के गांधीनगर सचिवालय के बगीचे में एक किसान ने जहर खा लिया। परिजनों के अनुसार अरावली जिला के रहने वाले 36 वर्षीय किसान मुख्यमंत्री से मिलने आया था।

बता दें कि कुछ दिन पहले गुजरात के किसानों ने प्रदर्शन करते हुए अपनी कर्जमाफी की मांग को लेकर सड़कों पर सैंकड़ों लीटर दूध बहा दिया था। साथ ही किसानों ने चेतावनी दी थी कि अगर सरकार उनकी मांगों को नहीं मांगती है तो आंदोलन उग्र किया जाएगा।

जांच अधिकारियों के मुताबिक अरावली जिले के भिलकुवा गांव का रहने वाला किसान बाबूसिंह चौहान सरकारी सहायता के लिए कुछ मंत्रियों और सरकारी अधिकारियों से मिलने गांधी नगर आया था।

बाबूसिंह के छोटे भाई अजयसिंह के मुताबिक वह बुधवार की सुबह मुख्यमंत्री से मिलने का कहकर घर से चला  गया। देर रात तक न आने पर उससे फोन से संपर्क किया गया तो उसने कहा कि वह लौट रहा है।

अजय सिंह ने बताया कि उस पर सहकारी बैंक का डेढ़ लाख का कर्ज था। फसल ठीक न होने पर उसको उत्पादन का मुनासिब दाम नहीं मिल सका जिससे उसको पैसे की कमी हो गई।

अजय ने आगे कहा कि गुरुवार को पता चला कि वह अस्पताल में भर्ती है जिसके बाद हमलोग गांधीनगर पहुंचे।

पुलिस अधिकारी पराग चौहान के मुताबिक बाबूसिंह जिन अधिकारियों से मिलने आया था उनसे वह नहीं मिल सका। पुलिस ने कहा कि जैसे ही बाबूसिंह बयान देने के लायक हो जाता है तो उसके बयान लिया जाएगा। पु

लिस के मुताबिक गुरूवार दोपहर 12 बजे सचिवालय के बागीचे में अचेत अवस्था में पड़े हुए देखा गया। पास से गुजर रहे लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

आनन-फानन में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने पाया कि किसान की ये हालत ऑर्गेनो-फॉस्फेट की जहर से हुई है। इसके चलते उसके मुंह से झाग निकल रहा था।

 

TOPPOPULARRECENT