Monday , September 24 2018

गुजरात में बीजेपी के 5 मंत्री चुनाव हारे

गुजरात विधानसभा चुनाव में  भाजपा सरकार के पांच मंत्रियों को  हार का सामना करना पड़ा है. बता दें कि भाजपा को गुजरात में साधारण बहुमत प्राप्त हुआ है और हारने वाले पांच मंत्रियों में आत्माराम परमार और चिमनभाई सपरिया कैबिनेट मंत्री हैं.

प्रदेश भाजपा के बड़े दलित चेहरे परमार को बोटाड ज़िले की गधाड़ा अनुसूचित जाति सीट पर कांग्रेस के प्रवीणभाई मारू ने करीब 9,500 वोटों से हराया.

सपरिया को जमजोधपुर सीट पर कांग्रेस के चिरागभाई कलारिया ने हराया. कलारिया को 64,212 जबकि सपरिया को 61,694 वोट मिले.

गुजरात सरकार में राज्य मंत्री शंकर चौधरी, केशाजी चौहान और शब्द शरण तडवी भी अपनी-अपनी सीटों पर जीतने में नाकाम रहे.

चौधरी को कांग्रेस उम्मीदवार जेनीबेन ठाकोर ने हराया. चौधरी को 95,673 जबकि ठाकोर को 1,02,328 वोट मिले.

देवदार सीट से भाजपा उम्मीदवार चौहान महज़ 972 वोटों से हारे. उन्हें कांग्रेस के शिवाभाई भूरिया ने हराया. भूरिया को 80,432 जबकि चौहान को 79,460 वोट मिले.

तडवी को नांदोड अनुसूचित जाति सीट पर कांग्रेस के प्रेमसिंह वसावा ने मात दी. वसावा को 81,849 जबकि तडवी को 75,520 वोट मिले.

इसके अलावा गुजरात राज्यसभा चुनाव के वक़्त कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामने वाले विधायकों को भाजपा  ने मैदान में उतारा, लेकिन एक को छोड़ सभी कांग्रेस उम्मीदवारों से हार गए.

पूर्व कांग्रेस व्हिप प्रमुख राम सिंह परमार जो कि थसरा से विधायक थे, कांग्रेस छोड़ भाजपा का दमन थामने के बाद उन्हें हार का सामना करना पड़ा.

इसके अलावा वीरगाम से डॉ. तेजश्रीबेन पटेल हजार वोट से हार गईं. तेजश्री 2012 में इसी सीट से कांग्रेस से जीती थीं.

कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए मानसिंह चौहान को भी बालासिनोर सीट से हार का सामना करना पड़ा. जामनगर ग्रामीण सीट से राघवजी पटेल भी हार गए. सिर्फ कांग्रेस से भाजपा में गए सीके रॉलजी ने ही गोधरा से जीत का स्वाद चखा.

 

TOPPOPULARRECENT