फ्रांसः अतिवाद को हवा देने का आरोप लगाकर मस्जिद को किया बंद, इमाम पर भी लगाए गंभीर आरोप

फ्रांसः अतिवाद को हवा देने का आरोप लगाकर मस्जिद को किया बंद, इमाम पर भी लगाए गंभीर आरोप

मार्सेल: फ्रांस के दक्षिणी राज्य मार्सेलिया में अधिकारियों ने एक मस्जिद को उग्रवाद और नफरत को हवा देने के आरोप में बंद कर दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मार्सेलिया की एक प्रशासनिक अदालत ने मस्जिद के इमाम पर नमाजियों को उग्रवाद की शिक्षा देने के आरोप में इमामत और तकरीर करने से रोक दिया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

अलअरबिया डॉट नेट ने मीडिया के हवाले से बताया है कि मार्सिलिया शहर में स्थित जामा मस्जिद अलसना को राज्यपाल पेपरदार टॉत की दरख्वास्त पर छह महीने के लिए बंद किया गया है।

अदालत द्वारा मस्जिद के इमाम जिसकी पहचान ख़ुफ़िया रखी गई है पर आरोप है कि उसने अपने भाषणों में अतिवादी, भेदभाव और हिंसा पर आधारित प्रचार शुरू कर रखी थी। फ़्रांसिसी मीडिया के अनुसार मस्जिद की निगरानी संगठन के वकील फिलिप पैरोलीर का कहना है कि जिन भाषणों की वजह से मस्जिद को बंद किया गया है वह नई नहीं है बल्कि 2013 की हैं। वह अदालत के फैसले पर हैरान हैं कि एक पुरानी घटना पर मस्जिद को बंद कर दिया गया है।

Top Stories