फ्री कश्मीर पोस्टर पर आदित्य ठाकरे ने दिया बड़ा बयान!

फ्री कश्मीर पोस्टर पर आदित्य ठाकरे ने दिया बड़ा बयान!

मुंबई में जेएनयू हमले के विरोध में प्रदर्शन के दौरान लहराए गए ‘फ्री कश्मीर’ पोस्टर के मुद्दे पर शिवसेना एक बार भ्रम की स्थिति में नजर आ रही है।

 

जागरण डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, एक ओर पार्टी प्रवक्ता संजय राऊत इसे इंटरनेट प्रतिबंध से आजादी बता रहे हैं, तो दूसरी ओर शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे ऐसा पोस्टर लहराए जाने की निंदा कर रहे हैं।

और अब शिवसेनानीत राज्य सरकार की पुलिस ने यह पोस्टर लहरानेवाली महिला के विरुद्ध आपराधिक मामला भी दर्ज कर लिया है।

जेएनयू में हुए हमले के विरुद्ध मुंबई के गेट वे ऑफ इंडिया पर प्रदर्शन के दौरान एक महिला ने ‘फ्री कश्मीर’ लिखा पोस्टर लहराना शुरू कर दिया था।

इस पोस्टर पर हंगामा शुरू हो जाने पर उक्त महिला का बचाव करते हुए शिवसेना नेता संजय राऊत ने कहा था कि केंद्र सरकार ने कश्मीर में कई तरह के प्रतिबंध लगा रखे हैं।

जिसके तहत मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं वहां बंद हैं। कश्मीर को इन प्रतिबंधों से मुक्त कराने के भाव से ही उक्त पोस्टर लहराया गया था। इसलिए इस पोस्टर के दूसरे अर्थ नहीं निकाले जाने चाहिए।

जबकि शिवसेना के ही युवा नेता एवं राज्य सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे ने साफ कहा कि यदि इस पोस्टर का आशय कश्मीर को भारत से आजादी दिलाने से था तो यह गलत है।

आदित्य ठाकरे ने अपनी बात को और स्पष्ट करते हुए कहा कि इस घटना को सही संदर्भ में देखे जाने की जरूरत है।

यदि यह सिर्फ इंटरनेट प्रतिबंध हटाने के लेकर था, तो कोई बात नहीं। लेकिन यदि यह कश्मीर को भारत से आजाद कराने को लेकर था, तो गलत है।

Top Stories