दिल्ली हिंसा- हिंसा वाले इलाकों में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश

दिल्ली हिंसा- हिंसा वाले इलाकों में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश

संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के मुद्दे पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में मंगलवार को लगातार तीसरे दिन हिंसा हुई। मौजपुर, भजनपुरा और ब्रह्मपुरी में भीड़ ने पथराव और दुकानों में तोड़फोड़ की। हिंसा में अब तक एक हेड कांस्टेबल समेत 11 लोगों की जान जा चुकी है। हिंसा से सबसे अधिक प्रभावित मौजपुर सहित कई स्थानों पर धुआं निकलता देखा गया। वहीं, चांद बाग इलाके में ताजा आगजनी की गई।

हिंसा के बाद दिल्ली के पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने कहा कि उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पर्याप्त पुलिस बल, सीएपीएफ और वरिष्ठ अधिकारी उत्तर पूर्वी दिल्ली में तैनात हैं। कुछ इलाकों में धारा 144 लागू है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक  नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया।

दिल्ली पुलिस के मुताबिक नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जाफराबाद में जो महिलाएं प्रदर्शन कर रही थीं, उन्हें हटा दिया गया है. वो रास्ता क्लियर करवा दिया गया है.