GHMC इवंका ट्रम्प के लिए सड़कों पर कर रही 21 करोड़ खर्च, करदाताओं की पीड़ा पर नहीं दिया जा रहा ध्यान!

GHMC इवंका ट्रम्प के लिए सड़कों पर कर रही 21 करोड़ खर्च, करदाताओं की पीड़ा पर नहीं दिया जा रहा ध्यान!
Click for full image

हैदराबाद: शमशाबाद-एचआईसीसी-फलकनुमा सड़कों की आगामी वैश्विक उद्यमी सम्मेलन के लिए मरम्मत की जा रही है जो कि शहर में 28 नवंबर से आयोजित होने वाली है।

आश्चर्य की बात यह है कि शहर की अन्य सड़कों पर उनकी खराब स्थिति के बावजूद उन्हें नहीं छुआ गया है।

डेक्कन क्रॉनिकल में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, ए.एस. राव नगर, गोलकॉन्डा चौराहे, आरटीसी चौराहे, नारायंगुड़ा, मसाब टैंक, मीनार मस्जिद, बीएचईएल आरएंडडी, बालनगर और अन्य स्थानों पर सड़कों पर एक दु:खद परिस्थितियां हैं।

मर्रेद्पल्ली की एक निवासी श्रीमती स्मिथी अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने जीएचएमसी से अनुरोध किया कि वह पूरी सड़क की मरम्मत करे। अशोक नगर के एक निवासी मोहम्मद मुकीद ने शिकायत की कि उनके इलाके में सड़क भी क्षतिग्रस्त है और स्थानीय लोग अपने वाहनों का उपयोग करने में असमर्थ हैं।

डीसी ने बताया, जीएचएमसी सड़कों की मरम्मत कर रही है जिसका इस्तेमाल वीवीआईपी, अन्य प्रतिनिधियों द्वारा किया जाएगा और यह स्थानीय लोगों द्वारा सामना किए जाने वाले मुद्दों की उपेक्षा कर रहा है। इस प्रयोजन के लिए 21.5 करोड़ रुपए खर्च किये जा रहे हैं जिनमें से, 6.5 करोड़ रुपए आरामघर, चंद्रयानुट्टा फ्लाईओवर से फलाकनुमा तक फैले स्ट्रेच के लिए है।

यह उल्लेख किया जा सकता है कि शिखर सम्मेलन के लिए, 2000 से अधिक प्रतिनिधि हैदराबाद में 28 नवंबर को मधुपुर और फलकनुमा में होटल में रहेंगे।

शिखर सम्मेलन स्थल और होटल के आसपास के क्षेत्रों में सड़कें की मरम्मत की जा रही हैं। बागान भी किया जा रहा है। यह सारी व्यवस्थाएं अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी इवंका ट्रम्प और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत के लिए किया जा रहा है।

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए, श्री सैयद मोहम्मद हुसैन ने कहा कि भारी बारिश में बीबी का चश्मा से इंजन बोव्ली तक की सड़कें क्षतिग्रस्त हुईं। पड़ोस में कई मुद्दों के बावजूद, जीएचएमसी केवल शामशाबाद, अरामगढ़, चंद्रयांगुत्ता और फलकनुमा क्षेत्रों की सड़कों पर ही ध्यान केंद्रित कर रहा है।

ताज फलकनुमा होटल से सिर्फ एक किलोमीटर दूर, नाले बह रहे है। स्थानीय नगर निगम ने सहायता का आश्वासन दिया लेकिन अब तक कुछ भी नहीं बदला है।

फारूक नगर के निवासी श्री हाजी अकरम ने कहा कि वीवीआईपी के लिए सरकार लाखों रुपये खर्च कर रही है। उन्होंने आगे सवाल किया कि टैक्स भर रहे स्थानीय निवासियों के बारे में क्या होगा।

इस बीच, फ्रेंच कलाकार, डेलास डेल्फ़िन और कलाकार युगल स्वथी विजय और विजय कुमार को हायटेक फ्लायओवर में सड़क कला का काम दिया गया है।

Top Stories