Tuesday , September 25 2018

62 साल की ‘माफिया मम्मी’ उर्फ़ बशीरन गिरफ्तार, 16 साल से क्राइम की दुनिया में थी एक्टिव

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने लेडी डॉन बशीरन उर्फ मम्मी को गिरफ्तार कर लिया है. 62 साल की बशीरन पर 113 मामलों में केस दर्ज है. इसमें मर्डर के केस भी शामिल हैं. पुलिस ने उसे संगम विहार से 17 अगस्त को गिरफ्तार किया. साउथ दिल्ली की डीसीपी रोमिल बनिया ने शनिवार को बताया कि क्राइम की दुनिया में बशीरन पिछले 16 साल से एक्टिव थी. पिछले 9 सालों में अपने 8 बेटों की मदद से उसने कई संगीत अपराधों को अंजाम दिया. कोर्ट के आदेश पर बशीरन का घर पहले ही सील हो चुका है. पुलिस के मुताबिक बशीरन ने अपने बच्चों को तो अपराध में धकेला ही, इलाके के सैकड़ों नाबालिग बच्चों को भी पहले नशे की लत लगाई और फिर उन्हें अपनी गैंग में शामिल कर लिया.

 

पुलिस ने बताया कि पिछले साल सितंबर में बशीरन ने 60 हजार रुपये लेकर कॉन्ट्रैक्ट किलिंग कराई थी. शव को जंगल में ले जाकर जला दिया गया था. बाद में पुलिस को अधजला शव मिला था. मृतक की पहचान होने पर कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. उन्होंने बताया कि यह काम बशीरन ने कराया था. इसके बाद से उसकी इस केस में भी तलाश थी. वह फरार चल रही थी. उसे पकड़ने के लिए पुलिस ने उसके घर तक को सील करा दिया था. उसे संगम विहार इलाके से ही गिरफ्तार किया गया.

 

पुलिस ने बताया कि आगरा जिले की रहने वाली बशीरन की शादी धौलपुर (राजस्थान) के रहने वाले मलखान से हुई थी. 1982 के आसपास वह अपने परिवार के साथ गोविंदपुरी नवजीन कैंप झुग्गी में आकर बस गई थी. इसके बाद यह संगम विहार इलाके में शिफ्ट हो गई. बशीरन के बेटों के नाम वकील, शकील, शमीम, सलमान, फैजल, सनी और राहुल हैं.

 

बताया जाता है कि बशीरन के आतंक की वजह से रात में आठ बजे के बाद कोई महिला रोड पर चलने से डरती है. यह 8-10-12 साल के बच्चों को अपना शिकार बनाती है. पहले नशे की आदत डालती है, चरस, गांजा खिलाना-पिलाना.. जब 6-7 महीने में आदत पड़ जाती है तो फिर उनको क्राइम की दुनिया में ढकेल देती है. उन्हें चाकू, छुरा, रिवॉल्वर देती है. इलाके में दिल्ली की सरकारी पानी की पाइप लाइन पर बशीरन का कब्ज़ा था. वह यहां अपने तरीके से पानी बांटती है और लोगों से घंटे के हिसाब से पैसे वसूलती थी. एक स्थानीय निवासी ने बताया कि इन्होंने कई बोरों पर कब्जे कर रखे थे.

TOPPOPULARRECENT