Tuesday , September 25 2018

Google पर खोजे मरने के तरीके और फिर किया सुसाइड

बेंगलुरु : ये तो सभी जानते हैं और कहा भी जाता है कि गूगल के पास हर बात का जवाब है, लेकिन क्या कोई खुदकुशी करने के लिए भी गूगल पर सर्च कर सकता है, ये वाकई में काफी हैरान करने वाली बात है.

मौसूल इत्तेला के मुताबिक, 26 साल की ईशा हांडा ने इतवार की शाम शोभा क्लासिक बिल्डिंग से कूदकर अपनी जान दे दी. इब्तिदायी जांच में पता चला है कि ईशा मरने से 48 घंटे पहले गूगल पर सुसाइड करने के तरीके खोज रही थी.

कहा जा रहा है कि ईशा ने खुदकुशी के तरीकों के साथ-साथ यह भी सर्च किया था कि खुदकुशी के लिए कितनी ऊंची बिल्डिंग से कूदना सही रहेगा. पहले तो पुलिस इसे हत्या का मामला समझ रही थी, लेकिन जिस तरह के सबूत सामने आएं है. उससे तो यही लगता है कि ईशा ने खुदकुशी किया है. हालांकि, पुलिस अभी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है. ईशा मरने से पहले अपने ब्वॉयफ्रेंड और 2 दोस्तों के राबिते में थी.

सुसाइड की जगह से मिले मोबाइल की जांच से पता चला है कि ईशा ने मरने से पहले 89 बेवसाइटों को चैक किया था. उसके बाद उसने सुसाइड करना तय किया. वह एक दिन पहले ऊंची बिल्डिंगों को देखने भी गई थी, जिसके बाद ही उसने शोभा क्लासिक बिल्डिंग को चुना. इस बिल्डिंग को चुनने की वजह शायद ये भी हो सकती है कि यह एक नई बिल्डिंग है और इसमें लोग भी कम ही होंगे, जिस वजह से यहां दाखिल होना आसान था.

कोकोनट ग्रोव अपाट्रमेंट में रहने वाली ईशा ने इतवार के रोज़ अपनी दो रूम मेंट को कहा कि वह किसी काम से बाहर जा रही है और उसे आने में देर हो जाएगी. इसके बाद वह शाम 5 बजे शोभा क्लासिक पहुंची और 3 घंटे तक बिल्डिंग के अंदर जाने का रास्ता सोचती रही. फिर किसी तरह वह अंदर जाने में कामयाब हो गई और अंधेरा होने पर करीब 8 बजे उसने छत से कूदकर अपनी जान दे दी.

पुलिस को उसके बैग से ड्रग्स भी मिला, जोकि कहा जा रहा है कि शायद उसने सुसाइड से पहले लिया होगा. क्योंकि होश में रहते हुए सुसाइड करना आसान नहीं होता. फिलहाल पुलिस ईशा के मौत के पीछे की वजह तलाशने में जुटी है.

TOPPOPULARRECENT