Thursday , December 14 2017

BRD हादसा: डॉ कफील खान के खिलाफ चार्जशीट दाखिल, भ्रष्टाचार का आरोप हटाया

गोरखपुर के बीआरडी  काॅलेज में हुए बच्चों की मौत के मामले में जेल में बंद आरोपियों आरोपियों के खिलाफ शासन से मंजूरी के बाद चार्जशीट दाखिल की गयी है.
इनमें बीआरडी मेडिकल काॅलेज के पूर्व प्रिंसिपल डॉक्टर राजीव मिश्रा और डॉक्टर कफील खान के खिलाफ एंटी करप्शन की विशेष कोर्ट में चार्जशीट दाखिल किया गया है. मामले की विवेचना कर रहे विवेचक सीओ कैंट अभिषेक सिंह ने शासन से अभियोजन के मंजूरी के बाद चार्जशीट दाखिल किया है.

जेल में बंद आरोपोयिों के खिलाफ आईपीसी की धारा 409, 308, 120 बी, 420, भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 8, इंडियन मेडिकल काउंसिल एक्ट 1956 के सेक्शन 15, आईटी एक्ट और 2000 के सेक्शन 66 के तहत केस दर्ज किया गया है.

विवेचक अभिषेक कुमार सिंह ने इस मामले में 93 गवाहों के मौखिक साक्ष्य तथा अन्य दस्तावेजी साक्ष्यों से प्राप्त सुबूतों के आधार पर डा. राजीव मिश्र के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 409, 308, 120 बी, एवं 7/13 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम तथा डा. कफील अहमद खान के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 409, 308, 120 बी में आरोप पत्र दाखिल किया है। डा. कफील अहमद के खिलाफ दर्ज 7/13 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, धारा 66 आईटी एक्ट, एवं 15 इंडियन मेडिकल काउंसिल एक्ट के मामले में कोई साक्ष्य न पाते हुए इन धाराओं में आरोप पत्र दाखिल नहीं किया है। इस मामले के अन्य आरोपियों के खिलाफ पूर्व में आरोप पत्र दाखिल किया जा चुका है।

बीआरडी मेडिकल काॅलेज के पू्र्व प्रिंसिपल डॉ राजीव मिश्रा, उनकी पत्नी डॉ. पूर्णिमा शुक्ला, एनेस्थीसिया विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ सतीश, लेखा विभाग के कनिष्ठ लिपिक सुधीर पाण्डेय, लिपिक संजय त्रिपाठी, लिपिक उदय प्रताप शर्मा, फार्मास्सिट गजानन जायसवाल और बीआरडी मेडिकल काॅलेज को आक्सीजन सप्लाई करने वाली फर्म पुष्पा सेल्स के मालिक मनीष भंडारी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया गया.

TOPPOPULARRECENT