Tuesday , July 17 2018

17 साल के इंतज़ार के बाद एथेंस के मुसलमानों को मिली मस्जिद बनाने की इजाज़त

एथेंस। आखिरकार सत्रह साल के लंबे इंतज़ार के बाद एथेंस के मुसलमानों को मस्जिद बनाने की अनुमति मिल गई है।  एथेंस वह एशियाई राजधानी है जहाँ कोई अधिकृत मस्जिद नहीं है।

अनुमति मिलने के बाद एक यूनानी-फिलिस्तीनी अनुवादक नसरल्ला आबिद कहते हैं कि मैं इस मस्जिद के बारे में लोगों से काफी सुन चूका हूँ। अब तो मैं इसे देखकर ही विश्वास करूँगा।

उन्होंने कहा कि एथेंस में 300,000 मुसलमान के घर है लेकिन नमाज़ पढ़ने की जगह नहीं है। तहखानों और अपार्टमेंट में लोगों ने कुछ जगह मस्जिद के नाम पर बना रखी हैं जहाँ नमाज़ होती है। इन तहखानो वालीं मस्जिद को अफगानिस्तान, पाकिस्तान और मिस्र से आये मुसलमानों ने विकसित किया है। एथेंस में मुसलमानों के एक कब्रिस्तान की योजना ठंडे बस्ते में हैं।

ग्रीस की मुस्लिम एसोसिएशन के अध्यक्ष नईम एलघनदौर कहते हैं कि यह स्थिति अपमान के समान है। हमारे साथ दोयम दर्जे के नागरिकों के जैसा बर्ताव किया जाता रहा है।

हालाँकि अब उन्हें उम्मीद है कि अप्रैल में मस्जिद खुल जाएगी। इस परियोजना को साल 2000 में शुरू किया गया था। लेकिन अधर में अटक गई थी। इस  परियोजना 2013 में फिर से शुरू की गई संसद में अगस्त 2016 में फिर से मतदान हुआ जिसमें मस्जिद के निर्माण के लिए बजट का अनुमोदन हुआ।

गौरतलब है कि दक्षिणपंथी राजनीतिक दल और और शक्तिशाली आरथोडकस चर्च एक लंबे समय से इस मस्जिद का विरोध करते चले आ रहे हैं।

 

TOPPOPULARRECENT