Sunday , December 17 2017

सरकार गोरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी करने वालों पर सख्त कार्रवाई करे: नवाब मलिक

Demo

मुंबई। देश भर में जारी गोरक्षकों की बदमाशी अब महाराष्ट्र में भी पहुंच चुकी है। नागपुर के बारसाँगी गांव में गोमांस ले जाने के आरोप में इस्माइल नामक एक व्यक्ति को पीटा। जो राज्य के माहौल खराब करने के लिए एक सुनियोजित प्रयास है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। सरकार से मांग की है कि वह मारपीट करने वाले सभी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए नवाब मलिक ने कहा कि तथाकथित गोरक्षकों द्वारा गोमांस लाने लेजाने या उपयोग करने के संदेह में मुसलमानों और दलितों पर जानलेवा हमले हो रहे हैं, और इसमें लगातार वृद्धि होता जा रहा है। जिसकी वजह से देश में सांप्रदायिक तनाव बढ़ता जा रहा है। इसलिए सरकार को खुलासा करना चाहिए कि किन किन पशुओं के मांस को बीफ में गिना जाए, और इस संबंध में लोगों को खबरदार करे।

उन्होंने कहा कि देश भर में गोरक्षा के नाम पर आतंक फैलाने की कोशिश की जा रही है। हरियाणा, झारखंड, उत्तर प्रदेश तथा अन्य राज्यों में गोमांस के नाम पर लोगों को मार डाला गया और अब यह बदमाशी महाराष्ट्र में भी पहुंच चुकी है।

नागपुर के कटोल तालुका के बारसाँगी गांव में इस्माइल शाह नामक व्यक्ति को गोमांस ले जाने की संदेह में पीटा गया है। जबकि वास्तविकता यह है कि इस्माइल शाह नागपुर में कानून के अनुसार जारी वधशाला से मांस लाकर बेचा करता था। लेकिन गाय का मांस ले जाने के संदेह में उसे तथाकथित गोरक्षकों ने पीटा। यह एक अत्यंत दुखद घटना है जिसका तुरंत मुख्यमंत्री को नोटिस लेना चाहिए और इस्माइल शाह को मारने पीटने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर इस तरह कानून अपने हाथ में लेने वाले गुंडों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं की गई तो इस तरह की वारदात का सिलसिला बढ़ता जाएगा। जिससे राज्य में सांप्रदायिक स्थिति अधिक भ्रमित होती जाएगी। इसलिए सरकार से हमारी मांग है कि जो लोग भी इस तरह की बदमाशी में शामिल हैं उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

TOPPOPULARRECENT