मुजफ्फरनगर दंगा- भाजपा नेताओं के खिलाफ आपराधिक मामलों को वापस ले सकती है योगी सरकार!

मुजफ्फरनगर दंगा- भाजपा नेताओं के खिलाफ आपराधिक मामलों को वापस ले सकती है योगी सरकार!
Click for full image

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने 2013  में हुए मुजफ्फरनगर दंगों में भाजपा नेताओं के खिलाफ लंबित नौ आपराधिक मामलों को वापस लेने की संभावना पर सूचना मांगी है.  न्यूज़ 18 की खबर के  मुताबिक यह जानकारी राज्य के एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा जिलाधिकारी को लिखे गए पत्र में मिली.

बता दें की उत्तरप्रदेश के मंत्री सुरेश राणा, पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बाल्यान, सांसद भारतेंदु सिंह, विधायक उमेश मलिक और पार्टी नेता साध्वी प्राची के खिलाफ मामले दर्ज हैं.

जिलाधिकारी को पांच जनवरी को लिखे पत्र में उत्तर प्रदेश के न्याय विभाग में विशेष सचिव राज सिंह ने 13 बिंदुओं पर जवाब मांगा है जिनमें जनहित में मामलों को वापस लिया जाना भी शामिल है.

पत्र में मुजफ्फरनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का विचार भी मांगा गया है. बहरहाल पत्र में नेताओं के नाम का जिक्र नहीं है लेकिन उनके खिलाफ दर्ज मामलों की फाइल संख्या का जिक्र है.  जानकारी के लिए बता दें की सितम्बर 2013 में हुए सांप्रदायिक दंगे में 60 लोग मारे गए थे और 40 हजार से अधिक लोग बेघर हुए थे.

Top Stories