नवजात को बचाने के लिए असम में पहली बार बनाया गया ग्रीन कोरिडोर

नवजात को बचाने के लिए असम में पहली बार बनाया गया ग्रीन कोरिडोर

गुवाहाटी : गुवाहाटी में रविवार को गंभीर रूप से बीमार एक चार महीने के लड़के को लोकोप्रिया गोपीनाथ बोरदोलोई इंटरनेशनल (LGBI) हवाई अड्डे तक पहुंचाने के लिए कामरेप (मेट्रो) जिला प्रशासन द्वारा ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया।

यह इस तरह का पहला मौका था जब असम में किसी मरीज के लिए ग्रीन कोरिडोर की व्यवस्था की गई हो। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि राज्य सरकार नाबालिग के इलाज के खर्चों को वहन करेगी।

बता दें कि हवाई अड्डे से बच्चे Snigdharaag Bhuyan और उसके माता-पिता को हवाई एम्बुलेंस के जरिए उन्नत उपचार के लिए गंगाराम अस्पताल, नई दिल्ली भेजा गया। खबरों के मुताबिक बच्चा तीव्र न्यूमोनिया से पीड़ित है। उसे 15 दिनों पहले गुवाहाटी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था और वेंटिलेशन पर डाल दिया गया था।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (यातायात) अमनजीत कौर ने बताया कि बच्चे को निजी अस्पताल प्रतिक्षा से एलजीबीआई हवाई अड्डे तक 33 किलोमीटर लंबा ग्रीन कोरिडोर बनाकर एम्बुलेंस को भेजा गया। इस एम्बुलेंस को पुलिस की 7 गाड़ियां एस्कॉर्ट प्रदान कर रही थी।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बच्चे के दिल्ली में उतरने पर एक ऐसा ही ग्रीन कोरिडोर उपलब्ध कराया जाएगा। ताकि बच्चे को हवाई अड्डे से गंगाराम अस्पताल जल्दी पहुंचाया जा सके।

Top Stories