Sunday , December 17 2017

रोहिंग्या मुसलमानों को खतरा बताया, तो यूज़र्स बोले- गुजराती CM विजय रुपानी भी म्यांमार से आए थे

म्यांमार में हिंसा की वजह से हज़ारों रोहिंग्या ने अपनी जान गंवा दी और जो बचे हैं वो म्यांमार से भागकर पड़ोसी देशों में शरणार्थी बन गए हैं । बांग्लादेश लाखों रोहिंग्या मुसलमानों को अपने यहां पनाह दे रहा है । लेकिन भारत ने रोहिंग्या शरणार्थियों को देश में रखने से मना कर दिया है ।

सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार ने कहाकि रोहिंग्या मुसलमान देश की सुरक्षा के लिए ख़तरा हो सकते हैं इसलिए उन्हें भारत में शरण नहीं दी जा सकती है । मोदी सरकार के इस रुख़ की अंतरराष्ट्रीय संगठनों ने भी निंदा की है । वहीं देश में भी रोहिंग्या मुसलमानों की मदद के लिए आवाज़ें उठी हैं ।

इसी बीच सोशल मीडिया पर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी को लेकर एक मैसेज वायरल हो रहा है । दरअसल उनका परिवार 1960 में म्यांमार से राजकोट आया था । विजय रूपाणी का जन्म म्यांमार में ही हुआ था । विजय रुपानी के बहाने सोशल मीडिया यूजर्स बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं ।

बीजेपी और उसके समर्थक म्यांमार से आए रोहिंग्या मुसलमानों को आतंक से जोड़कर देख रही है । सोशल मीडिया पर बीजेपी से सवाल किया जा रहा है कि म्यांमार से आने वाले लोग देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए ख़तरा हैं तो विजय रुपानी भी म्यांमार से ही भारत आए थे ।

 

ये हैं गुजरात के मुख्मंत्री विजय रुपानी। पर जानते हैं इन में ख़ास क्या है ये भी बर्मा से आये थे। है ना कमाल वेसे हमने सुना है बर्मा से आये लोग देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए खतरा हैं

Posted by Shaikh Jilani on Tuesday, September 19, 2017

TOPPOPULARRECENT