कर्नाटका में तीन तलाक़ विधेयक के विरोध में फिर महिलाओं ने किया प्रदर्शन

कर्नाटका में तीन तलाक़ विधेयक के विरोध में फिर महिलाओं ने किया प्रदर्शन

कुल जमात ए तहफ्फुज ए शरीयत कमेटी के तत्वावधान में गुरूवार को तीन तलाक़ विधेयक और संसद के संयुक्त सत्र में मुस्लिम महिलाओं पर भारत के राष्ट्रपति द्वारा की गई टिप्पणी के खिलाफ वृहद विरोध प्रदर्शन किया गया।

इस प्रदर्शन में सैंकड़ों की संख्या में मुस्लिम पुरुष और महिलाओं ने हिस्सा लिया जिसको डीसी कार्यालय के समक्ष किया गया। बाद में अपनी मांगों से सम्बंधित एक ज्ञापन डीसी के माध्यम से भारत के राष्ट्रपति को प्रस्तुत किया गया।

उन्होंने मोदी सरकार के इस कदम के खिलाफ नारेबाजी की और तीन तलाक़ विधेयक को पेश करने के खिलाफ आवाज उठाई। उनका कहना था कि मुस्लिम समुदाय सरकार के इस कदम को जोरदार विरोध कर रहा है, जो शरीयत के खिलाफ है।

प्रस्तावित विधेयक के प्रावधान में दंड और जेल की सजा का प्रावधान है। साथ ही केंद्र सरकार पर मुस्लिम पर्सनल कानून में हस्तक्षेप का आरोप लगाया। बाद में प्रदर्शनकारियों ने अपनी मांग सम्बन्धी जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा।

Top Stories