Wednesday , January 17 2018

गुरुग्राम हत्याकांड के आरोपी ने कहा- मेरा दिमाग खराब हो गया था

हरियाणा: गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के बच्चे प्रद्युम्न का शव बाथरूम में मिलने के बाद बस कंडक्टर अशोक को गिरफ्तार कर लिया गया था। कोर्ट ने उसे 3 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

हत्या के आरोपी बस कंडक्टर अशोक ने गुनाह कबूल कर लिया है। अशोक ने मीडिया को बताया कि उसकी बुद्धि भ्रष्ट हो गई थी। वह प्रद्युम्न के साथ गलत काम करना चाहता था। बच्चे ने शोर मचाया तो चाकू से उसके गले पर वार कर दिया।

जब उससे पूछा गया कि उसने क्या पहले भी किसी बच्चे को सेक्शुअली एब्यूज किया है, तो आरोपी ने कहा- ”नहीं। ये पहली बार था। मैं घबरा गया था। पता नहीं कैसे हो गया। मेरी बुद्धि भ्रष्ट हो गई थी। मैं गलत काम करना चाहता था। लेकिन किया नहीं।’

आरोपी स्कूल के पास ही घमरोज़ गांव का रहने वाला है। परिवार में वह इकलौता कमाने वाला है। उसकी 4 बहनें, पत्नी और 2 बेटे हैं और बूढ़े मां बाप है। आरोपी अशोक 8 महीने पहले ही स्कूल में बस कंडक्टर लगा था।
परिवार वालों के मुताबिक, पुलिस ने अशोक को फ़र्ज़ी फंसाया है और उसने आज तक गांव में किसी से झगड़ा नहीं किया तो हत्या कैसे कर सकता है।

TOPPOPULARRECENT