Wednesday , January 17 2018

गौरी लंकेश की हत्या पर हरीश रावत बोले- जवाब देने के बजाय सवाल करने वालों को चुप कराया जा रहा है

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर सवाल खड़े किए हैं। केंद्र में बैठी मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने अपने फेसबुक वाल पर एक पोस्ट लिखी है।

इस पोस्ट के जरिए उन्होंने सवाल उठाया है कि क्या अब देश में किसी को अपने विचार रखने की आजादी छीनी जा रही है। क्या जो पत्रकार सरकार और दक्षिणपंथी संगठनों के खिलाफ लिखेंगे या बोलेंगे तो उनके असहमति के स्वरों का दबा दिया जाएगा ?

जब वह सरकार में थे। तब उन्हें भी मीडिया के कुछ लोगों के सवाल चुभते थे। लेकिन फर्क सिर्फ इतना है कि वह ऐसे सवालों के आगे झुकते थे, आज लोग ऐसे सवाल करने वालों को झुकाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि पत्रकार गौरी की हत्या के साथ दो हत्याएं हुई हैं। एक निडर महिला पत्रकार की और दूसरी असहमति के प्रबल ध्वजवाहक की।

उन्होंने गौरी की हत्या को भारतीय लोकतंत्र की बड़ी त्रासदी बताया है। उनके मुताबिक, यह चुनौती संसदीय लोकतंत्र, देश के संविधान और संविधान के प्रहरी हाई कोर्ट के सम्मुख है।

#गौरी_लंकेश के रूप में एक 55 वर्षीय महिला की हत्या के साथ दो हत्याएं और हुई है, एक निर्भीक महिला पत्रकार और देश के असहमत…

Posted by Harish Rawat on Sunday, September 10, 2017

TOPPOPULARRECENT