बांदा : हथौरा मदरसे के जिम्मेदार और कश्मीरी छात्रों से कोतवाली में एनआईए ने की पूछताछ

बांदा : हथौरा मदरसे के जिम्मेदार और कश्मीरी छात्रों से कोतवाली में एनआईए ने की पूछताछ
Click for full image

हथौरा के मदरसा जामिया अरबिया में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) की दो सदस्यीय टीम ने शुक्रवार को यहां पढ़ने वाले कश्मीर के छात्रों, शिक्षकों और मदरसा संचालकों से कोतवाली में घंटों तक पूछताछ की। एनआईए ने पूछताछ के दौरान गेट एंट्री रजिस्टर और अन्य दस्तावेज मंगाकर जांच की।

बताया गया है कि एनआईए ने यहां से करीब तीन माह पूर्व पढ़कर जा चुके कश्मीर के छात्र तौसीफ के बारे में जानकारी हासिल की है जिसको कुछ दिनों पूर्व कश्मीर में गिरफ्तार किया गया है।

मौलाना मुफ्ती नजीब अहमद समेत कई कश्मीरी छात्रों से भी एनआईए सदस्यों ने पूछताछ की। कई घंटे तक यह सिलसिला चला। इस दौरान मदरसे के जिम्मेदार समेत अन्य लोगों को दिल्ली आकर बयान दर्ज़ करने की हिदायत भी दी गई।

बांदा शहर से 16 किमी दूर हथौरा गांव स्थित विश्वविख्यात मदरसा 1933 से स्थापित है। यहां लगभग ढाई हजार छात्र हैं, जिनमें सात कश्मीरी छात्र भी हैं। मदरसे के सभी शिक्षकों और जिम्मेदारों ने एनआईए को जांच में सहयोग दिया।

उधर, इस घटना को लेकर अफवाहों का बाजार गर्म रहा। बड़ी संख्या में मदरसा के छात्र परिसर में इकट्ठा रहे। मदरसा जिम्मेदार मौलाना नजीब अहमद ने बताया कि मदरसे में किसी भी तरह की गलत गतिविधियों को हरगिज गुंजाइश नहीं है।

Top Stories