Friday , December 15 2017

आरुषि-हेमराज मर्डर केस: इंसाफ के लिए सुप्रीम कोर्ट जाएगी हेमराज की विधवा

नई दिल्लीः आरुषि-हेमराज मर्डर केस में तलवार दंपति की रिहाई के बाद एब हेमराज का परिवार न्याय के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगा। हेमराज की विधवा पत्नी खुमकला ने सीबीआई पर जांच में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए कहा है कि उनके साथ न्याय नहीं किया गया। हेमराज की पत्नी अपने गांव धारापानी में रहती हैं जो काठमांडु से 118 किमी दूर है। खुमकला ने कहा कि भले ही उसके पास पैसे नहीं हैं लेकिन फिर भी वह कोर्ट जाएगी और इंसाफ की गुहार लगाएगी।

खुमकला के भाई अशोक कुमार ने कहा कि तलवार दंपति के बाद अब सीबीआई क्या कर रही है, कैसे उनसे जांच में गड़बड़ी हो गई, इसका जवाब उनको देना होगा। हेमराज की मौत के बाद उसके घर के हालत काफी खराब हो गए। उसकी बीमार मां बिस्तर पर है और जैसे-तैसे घर का गुजारा चलता है।

15 मई 2008 की रात में नोएडा के सैक्टर-25, जलवायु विहार में आरुषि तलवार की गला रेत कर हत्या कर दी गई। प्राथमिक जांच में लापता नौकर हेमराज पर शक की सुई घूमी लेकिन आरुषि की हत्या के एक दिन बाद उसकी लाश तलवार दंपति के घर की छत पर से बरामद हुई। इसके बाद शक के घेरे में तलवार दंपति आया। सीबीआई ने अवैध संबंधों को आधार बनाकर जांच की और तलवार दंपति को अरेस्ट कर लिया गया।

सीबीआई अदालत ने 26 नवंबर, 2013 को आरुषि-हेमराज की हत्या का आरोपी मानते हुए तलवार दंपति को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। 4 साल बाद इसी महीने इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इस मामले में फैसला सुनाते हुए सीबीआई की थ्योरी को मानने से इंकार कर दिया और तलवार दंपति को बरी कर दिया।

TOPPOPULARRECENT