हिन्दू विचारधारा को ‘हाईजेक’ कर लिया गया है : शशि थरूर

हिन्दू विचारधारा को ‘हाईजेक’ कर लिया गया है : शशि थरूर

कांग्रेस नेता शशि थरूर का कहना है कि हिंदू विचारधारा को ‘हाइजैक’ कर लिया गया है। उन्होंने इसका बहुत संकीर्ण सोच वाले राजनीतिक उद्देश्यों के लिए दुरूपयोग किए जाने पर चिंता जताई। हिंदू धर्म पर अपनी समझ के बारे में थरूर ने एक किताब लिखी है। उन्होंने कहा कि उन्हें यह सुझाव देने वाले लोगों पर गर्व नहीं है, जो कहते हैं कि सिर्फ एक हिंदू ‘और सिर्फ एक खास तरह का हिंदू’ ही एक असली भारतीय हो सकता है। उन्हें उन हिंदुओं पर गर्व है जो सांप्रदायिकता को सिरे से खारिज करते हैं।

थरूर के मुताबिक उनकी पुस्तक ‘व्हाई आई एम ए हिंदू’ के लिए विचार कुछ समय से उनके दिमाग में घूम रहा था। उन्होंने कहा कि वह बहुत ही संकीर्ण सोच के राजनीतिक उद्देश्यों को लेकर हिंदू धर्म, आस्था और पहचान के दुरुपयोग को लेकर कुछ समय से चिंतित थे। थरूर के मुताबिक, उनकी पुस्तक में हिंदुत्व विचारधारा को इसके खुद के पैरोकारों के शब्दों में फिर से बयां करने की एक कोशिश है।

उन्होंने हिंदू को एक धर्म और हिंदुत्व को एक राजनीतिक परियोजना बताते हुए कहा कि हिंदुत्व शब्दावली ईजाद करने वाले सावरकर ने विशेष रूप से लिखा था कि वह एक बहुत धार्मिक व्यक्ति नहीं है और नहीं चाहते कि लोग हिंदुत्व और हिंदू के साथ भ्रमित हों। यह पूछे जाने पर कि वह असली हिंदू किन्हें मानते हैं, थरूर ने कहा कि इसका आसान जवाब नहीं है। आप इस शब्द को सीमित नहीं कर सकते।

Top Stories