कर्नाटक: हिंदू-मुसलमान ने पेश की एकता की मिसाल, मिलकर बनाया मंदिर और मदरसा

कर्नाटक: हिंदू-मुसलमान ने पेश की एकता की मिसाल, मिलकर बनाया मंदिर और मदरसा
Click for full image

राईचोर: देश भर में धर्म के नाम पर नफ़रत फैलाने वाली घटनाओं के बीच कर्नाटक से गंगा-जामुनी तहज़ीब की तस्वीर पेश करती भाईचारे की ख़बर आ रही है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ख़बर के मुताबिक़ कर्नाटक के राईचोर शहर के एक छोटे से कॉलोनी के लोगों ने इसे सच कर दिखाया है। राईचोर शहर के ब्रिन्दावन कॉलोनी के हिंदू मुस्लिम भाइयों ने मिलकर एक विष्णु मंदिर निर्माण के अलावा अरबी मदरसा भी स्थापित किया है।

ऐसा बहुत कम ही देखा जाता है कि मंदिर के उद्घाटन समाधि पर मुसलमानों का नाम हो और अरबी मदरसा के उद्घाटन समाधि पर हिन्दू भाइयों का नाम हो।

लेकिन ब्रिन्दावन कॉलोनी के निवासियों ने ऐसा कर दिखाया है। 19 मार्च को ब्रिन्दावन कॉलोनी में अरबी मदरसा के उद्घाटन समारोह का आयोजन किया गया । इस अवसर पर विद्वानों के अलावा विभिन्न धर्मों के नेताओं ने भाग लिया।

गौरतलब है कि मदरसा के उद्घाटन समारोह की तरह पिछले महीने 19 फरवरी को यहां विष्णु मंदिर का भी उद्घाटन हुआ था। विभिन्न धर्मों के नेताओं ने ब्रिन्दावन कॉलोनी के निवासियों के इस कदम को आदर्श बताया।

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक के राईचोर की गिनती राज्य के प्राचीन और ऐतिहासिक शहरों में किया जाता है। प्राचीन ज़माने की तरह यहाँ पर अभी भी गंगा-जमुनी संस्कृति झलकती है। यही कारण है कि राईचोर शहर में आज़ादी से लेकर अब तक सांप्रदायिक तनाव या हिंसा की घटनायें पेश नहीं आइ हैं। राईचोर की ब्रिन्दावन कॉलोनी की गिनती फिलहाल पॉश कालोनियों में किया जाता है। यहां किसी धर्म व संप्रदाय के भेदभाव के बिना लोग रहते हैं। हालांकि ब्रिन्दावन कॉलोनी मुस्लिम बहुल क्षेत्र में स्थित है.

Top Stories