Thursday , December 14 2017

नफ़रत फैलाने की एक और कोशिश नाकाम, हिंदूवादी संगठन ने शेयर किया फ़र्ज़ी वीडियो

फेसबुक पर ‘I Support Ajit Doval’ नाम के बने पेज से सोशल मीडिया पर एक फर्जी वीडियो वायरल हुआ है।

इस फर्जी वीडियो को 25 जुलाई को पेज पर अपलोड किया गया था। जिसके जरिये दक्षिणपंथी हिंदूवादी संगठन ने पंजाब में सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिशें की।

वीडियो में दावा किया जा रहा था कि सिखों के एक समूह ने कुछ मुस्लिमों का पीछा किया था, जो पाकिस्तान के समर्थन और बैठकों का आयोजन कर नारे लगा रहे थे।

वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन लिखा गया है कि पंजाब के कुछ मुस्लिम धरना विरोध कर रहे थे। तभी 2 सिखों को गुस्सा आ गया और अपनी तलवार निकाल ली। जिससे डर कर लोग वहां से तित्तर-बित्तर हो गए।

लेकिन इस वीडियो की सच्चाई कुछ और ही है। दरअसल ये घटना जून में हुई थी। जिसमें सिखों में शिवसेना के लोगों का विरोध किया था। जोकि एक धरने में ‘खालिस्तान मुरादाबाद’ के नारे लगा रहे थे।

सोशल मीडिया पर हिंदुत्व समूह ने मुसलमानों द्वारा पाकिस्तान-समर्थक के तौर पर दिखाने वाली कथित बात पूरी तरह से झूठ साबित हुई।क्योंकि इस घटना के असली वीडियोज सोशल मीडिया पर मौजूद हैं।

इस वीडियो को शेयर और लाइक करने की बात कहीं गई। तब से अब तक इस वीडियो को 3.2 लाख लोगों द्वारा देखा जा चुका है। जबकि वास्तव में यह वीडियो पंजाब से है और फेसबुक पेज ‘I Support Ajit Doval’ ने इस वीडियो के बारें में झूठ बोलकर शांत पंजाब में सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के लिए प्रचारित किया।

 

TOPPOPULARRECENT