Friday , December 15 2017

भूख से मरी सकीना की मौत के 2 दिन बाद प्रशासन ने भेजी अनाज की बोरियां

उत्तर प्रदेश के बरेली  में बेहद शर्मनाक  मामला सामने आया है।  55 वर्ष की सकीना की कथित तौर पर खाने की कमी के कारण मौत हो गई। इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के  मुताबिक महिला के  बेटे  को राशन नहीं दिया गया, क्योंकि सकीना  पीडीएस दुकान पर  अंगूठा लगाने नहीं पहुंच पाई थी। प्रशासन ने  महिला की मौत के दो दिनों के बाद उसके घर पर अनाज की बोरियां भिजवाईं। सकीना के बेटे शमशाद ने बताया कि अहमद नवी नाम के दुकानदार ने मुझसे कहा कि अम्मी को लाए बिना इस महीने का राशन नहीं मिलेगा। दो खराब चारपाई और राशन की बोरियों के साथ तिरपाल से बने घर में बैठे सकीन के पति मोहम्मद इशाक ने कहा कि सकीना को लकवा मार गया था और वह चल-फिर नहीं सकती थी। इशाक ने कहा कि पहले हम उसे चारपाई पर डालकर अंगूठा लगाने की प्रक्रिया पूरी करने ले गए थे, लेकिन इस बार वह बहुत ज्यादा बीमार थी, जिस कारण उसका चलना-फिरना असंभव था।

बरेली के डीएम आर विक्रम सिंह ने शुक्रवार को इंडियन एक्सप्रेस को बताया, ”इसमें कोई शक नहीं कि परिवार बहुत गरीब है, लेकिन यह विश्वास करना मुश्किल है कि महिला की मौत भुखमरी से हुई। उनकी मौत मंगलवार सुबह हुई और उसी शाम को उन्हें दफना दिया गया। पोस्टमॉर्टम भी नहीं किया गया, जिससे मौत के कारणों का पता चल पाता।

TOPPOPULARRECENT