Saturday , April 21 2018

नये साल की शुभकामनाएं और जश्न मनाने पर सजा दी जायेगी- बालाजी मंदिर पुजारी

हैदराबाद। तेलंगाना के चिलकुर बालाजी मंदिर में मुख्य पुजारी सीएस रंगाराजन ने कहा है कि अगर किसी ने उन्हें नए साल की शुभकामनाएं दी तो वह उससे उठक-बैठक करवा देंगे। रंगराजन ने कहा कि मंदिरों के पैसे से 1 जनवरी को मंदिर को सजाना हास्यास्पद है, क्योंकि उनका हिंदू धर्म से कोई संबंध नहीं है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंदिर के मुख्य पुजारी सीएस रंगाराजन ने कहा कि अगर कोई श्रद्धालु उन्हें मंदिर परिसर में एक जनवरी को हैप्पी न्यू ईयर विश करेगा तो वह उस श्रद्धालु को सजा के तौर पर उठक-बैठक लगवाएंगे।

पुजारी रंगराजन ने इस बयान के पीछे की वजह हिंदू संस्कृति से छेड़छाड़ बताई। उन्होंने कहा कि 1 जनवरी को नए साल का जश्न मनाना हिंदुत्व के खिलाफ है।

हिंदुओं को तेलुगू नव वर्ष ‘उगादि’ मनाना चाहिए। भक्तों को दंड देने के अपने रुख का बचाव करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं मंदिर में एक शिक्षक की तरह हूं, भक्त छात्र हैं। मेरा नाराज होना सही है अगर कोई मुझे नया साल मुबारक कहता है।

उन्होंने बचाव करते हुए कहा कि वह हर साल नवंबर और दिसंबर के महीने में अपने भक्तों को यह हिदायत देते हैं, लेकिन इस बार उनकी बात सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसकी उन्हें बहुत खुशी है।

TOPPOPULARRECENT