ग्लोबल उद्यमिता शिखर सम्मेलन में मुस्लिम उद्यमियों को नजरअंदाज किया गया

ग्लोबल उद्यमिता शिखर सम्मेलन में मुस्लिम उद्यमियों को नजरअंदाज किया गया
Click for full image

हैदराबाद: मुस्लिम उद्यमियों को 28-30 नवंबर, 2017 को हैदराबाद में आयोजित होने वाले ग्लोबल उद्यमिता शिखर सम्मेलन में जगह नहीं मिली पाई है।

जीईएस (GES)  वेबसाइट पर अपलोड की गई पूरी स्पीकर की सूची में अफगानिस्तान की एक मुस्लिम महिला रॉया महबूब है। भारत से एकमात्र मुस्लिम नाम टेनिस स्टार, सानिया मिर्जा का है, जिसका नाम ‘ब्रेकआउट’ और ‘मास्टर क्लास’ सत्र में सूचीबद्ध है

शिखर सम्मेलन में मुस्लिम उद्यमियों की कम भागीदारी के  कारण पर, वित्तीय उत्पादों सेवाओं और इस्लामी बैंकिंग के विकास के विशेषज्ञ डॉक्टर शरीक निसार ने कहा, “मुस्लिम समुदाय में उद्यमशीलता का स्तर कम है। एक समुदाय के लिए, जिनमें से अधिकांश लोग रोजगार और साक्षरता जैसे मसलों से जूझ रहे हैं उस समुदाय में उद्यमिता आसानी से नहीं आती हैं।

डॉ निसार ने भी कहा, “मुसलमानों के लिए एक अलग एसईजेड होने चाहिए और इसके लिए  मौजूदा व्यवस्था में मुसलमानों को जगह क्यों नहीं दी जा सकती?

फैसल फारूकी माउथशट डॉट कॉम के संस्थापक ने कहा कि मुस्लिम समुदाय में जागरूकता लाने की ज़रूरत है उन्हे उपलब्ध अवसरों का उपयोग करने की आवश्यकता है।

 

 

 

Top Stories