बाबरी मस्जिद की निर्माण के लिए मैं शहीद होने के लिए भी तैयार हूं: ओवैसी

बाबरी मस्जिद की निर्माण के लिए मैं शहीद होने के लिए भी तैयार हूं: ओवैसी
Click for full image

हैदराबाद: आल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन के डायमंड जुबली रंगा रंग समारोहों का पार्टी के हेडक्वार्टर दारुस्सलाम में तिंरगा लहराने के साथ उद्घाटन किया गया। बैरिस्टर असद उद्दीन ओवैसी ने इस पार्टी के तिरंगा लहराने की रस्म अदा की।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इस अवसर पर बोलते हुए बैरिस्टर ओवैसी ने दावा किया कि मौजूदा सत्तारूढ़ दल के नेता बात बात पर यह कहते हैं कि मुसलमानों को पाकिस्तान भेज दिया जाए, लेकिन प्रधानमंत्री और उनकी पार्टी और संघ परिवार के लोग वित्तीय स्कैंडलों में शामिल लोगों को पाकिस्तान नहीं भेजते।

उन्होंने कहा कि मोदी जी कहते हैं न खाऊंगा न खाने दूंगा लेकिन नीरव मोदी 11400 करोड़ रूपए लेकर भाग गया, इसी तरह अन्य लोग भी करोड़ों रुपये लेकर भाग गये हैं। उन्होंने कहा कि 2011 में बाबरी मस्जिद के मुक़दमा के लिए मजलिस के प्रतिनिधियों ने एक भारी रकम मुस्लिम पर्सनल लॉ को दिया ताकि वह इस रकम के जरिए मस्जिद का मुक़दमा लड़ सकें।ओवैसी ने आगे कहा कि मस्जिद की निर्माण के लिए अगर उनकी शाहदत की ज़रूरत पड़े तो वह शहीद होने के लिए भी तैयार हैं।

Top Stories