Wednesday , August 15 2018

मैंने सोचा था कि सोनिया गाँधी मुझे PM बनायेंगे और मनमोहन सिंह को राष्ट्रपति: प्रणब मुखर्जी

नई दिल्ली: पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी देश के ‘सर्वोच्च नागरिक’ बन जाने के बाद भी उनके दिल में देश के प्रधानमंत्री न बन पाने की कसक हमेशा बाक़ी है। पिछले शुक्रवार को उन्होंने नई दिल्ली में अपनी नई किताब ‘द कवालेशन इयर्स: 1996-2012 रिलीज़ किया। जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी सहित कांग्रेस पार्टी और अन्य दलों के वरिष्ठ नेताओं ने भाग लिया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

अपनी राजनीतिक यात्रा के बारे में लिखे इस पुस्तक में प्रणब मुखर्जी ने इसे एक विशेष विवरण के साथ लिखा है। नवभारत टाइम्स के अनुसार इस पुस्तक के रिलीज़ के अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी उनकी इस मंशा और प्रधानमंत्री न बन पाने की कसक का उल्लेख किया। जबकि सिंह ने यह भी कहा कि प्रधान मंत्री बनने के बावजूद दोनों के बीच रिश्तों में कोई कमी नहीं आई।

प्रणब मुखर्जी लिखते हैं कि 2012 में राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार का नाम चल रहा था। मेरे बारे में भी चर्चा चल रही थी। एक दिन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उन्हें बुलाया और उन्हें राष्ट्रपति के लिए दूसरे के नाम का सुझाव देने के लिए कहा। उस बैठक को याद करते हुए प्रणब लिखते हैं कि सोनिया गांधी ने उनसे कहा मिस्टर मुखर्जी इसमें कोई संदेह नहीं है कि आप इस पद के लिए सबसे उपयुक्त व्यक्ति हैं, लेकिन साथ ही आप को यह भी नहीं भूलना चाहिए कि आप सरकार चलाने में कितना महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT