IAS मोहम्मद मोहसिन के सस्पेंड होने पर पूर्व चुनाव आयुक्त कुरैशी बिफरे, कहा- आयोग ने छवि सुधारने का मौका गंवाया

IAS मोहम्मद मोहसिन के सस्पेंड होने पर पूर्व चुनाव आयुक्त कुरैशी बिफरे, कहा- आयोग ने छवि सुधारने का मौका गंवाया

पूर्व चुनाव आयुक्त शाहबुद्दिन याकूब कुरैशी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चुनाव आयोग पर हमला किया है। उनका कहना है कि दोनों के पास अपनी छवि सुधारने का एक मौका था जिससे कि वह चूक गए। ट्विटर के जरिए उन्होंने अपने विचार रखे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री के हेलिकॉप्टर की जांच करने वाले अधिकारी को आयोग द्वारा निलंबित करने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

अपने ट्वीट में कुरैशी ने लिखा, ‘आयोग ने छवि सुधारने का मौका खो दिया। ओडिशा में सामान्य पर्यवेक्षक के तौर पर तैनात आईएएस अधिकारी को प्रधानमंत्री मोदी के हेलिकॉप्टर की जांच करने की वजह से निलंबित किया जाना न केवल दुर्भाग्यपूर्ण है बल्कि आयोग की छवि को सुधारने के मौके से चूकना भी है। दोनों ही जनता के स्कैनर पर रहते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री लगातार आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं और आयोग लगातार उसकी अनदेखी कर रहा है। प्रधानमंत्री के हेलिकॉप्टर की तलाशी यह दिखाने का एक अवसर था कि कानून सभी के लिए बराबर है। एक झटके में दोनों की आलोचनाएं खत्म हो जाती। दुर्भाग्य से दोनों ने अलग ही रास्ता चुना। उनकी आलोचना अब पहले के मुकाबले काफी ज्यादा बढ़ जाएगी।’

कुरैशी ने कहा, ‘इसके विपरीत मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के चॉपर की उनकी आंखों के सामने तलाशी ली गई। जिसने उनका कद बढ़ाया। हमें अपने नेताओं में इस तरह के स्टेट्समैन जैसे रवैये की जरूरत है। मिस्टर पटनायक को सलाम।’ बता दें कि 1996 बैच और कर्नाटक काडर के आईएएस अफसर मोहम्मद मोहसिन को चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री के हेलिकॉप्टर की जांच करने की वजह से निलंबित कर दिया था।

Top Stories