Thursday , January 18 2018

राजद नेता शहाबुद्दीन को जिला बदर करने वाले IAS अधिकारी मुसीबत में, जारी हुआ अरेस्ट वारंट

पटना। भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी सीके अनिल एक बार फिर चर्चा में आ गये हैं। बीएसएससी पेपर लीक मामले में आयोग के अध्यक्ष सुधीर कुमार की गिरफ्तारी के बाद अब आइएएस अधिकारी सीके अनिल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ है।

वह बीएसएससी के ओएसडी हैं। इससे पहले सीके अनिल बारह साल पहले सीवान में डीएम पद पर रहने के दौरान सुर्खियाें में आये थे। सीके अनिल ने तत्कालीन सांसद मो. शहाबुद्दीन के राज को तहस नहस कर दिया था। हालांकि पेपर लीक मामले में अब वे खुद फंसते दिख रहे हैं।

1991 बैच के आइएएस अफसर सीके अनिल 2005 में सीवान के डीएम पद पर रहने के दौरान तत्कालीन सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के साथ हुए विवादों काे लेकर प्रकाश में आये थे। 2005-06 में सीके अनिल ने शहाबुद्दीन का नाम वोटर लिस्ट से खारिज कर दिया था।

इतना ही नहीं अनिल ने शहाबुद्दीन को जिला बदर करने का आदेश भी दिया था। सीके अनिल इसके बाद कई और जगहों पर भी रहे और वहां भी चर्चा में बने रहे है।

TOPPOPULARRECENT