Tuesday , April 24 2018

त्रिपुरा में कांग्रेस की जीत होती अगर मेरा प्रस्ताव स्वीकार किया होता: ममता बैनर्जी

नई दिल्ली: त्रिपुरा में कांग्रेस की हार पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा राहुल गाँधी अगर मेरा प्रस्ताव स्वीकार कर लिया होता तो वहां कांग्रेस की हार नहीं होती। उनहोंने यह भी दावा किया कि भगवा पार्टी कभी भी पश्चिम बंगाल और ओडिशा में जीत दर्ज नहीं कर सकती। उन्होंने भाजपा को तिलचट्टा बताते हुए कहा कि ये वो तिलचट्टा है जो पंख लगाकर मोर बनने का सपना देख रहा है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

खबर के मुताबिक, मुख्यमंत्री ममता ने दावा किया कि 2019 लोकसभा चुनाव भाजपा के लिए विनाशकारी साबित होगा और पार्टी सत्ता बरकरार नहीं रख पाएगी। उन्होंने कहा कि अगर राहुल गांधी ने कांग्रेस, तृणमूल और स्थानीय पहाड़ी दलों के बीच गठबंधन के मेरे प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया होता तो त्रिपुरा में स्थिति अलग होती।

उन्होंने दावा किया कि चुनाव परिणाम से भाजपा को कई राज्यों में होने वाले चुनावों में फायदा नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा ऐसे राज्य में जीत पर खुश होने की बात नहीं है जहां महज 26 लाख मतदाता हैं और दो संसदीय सीट हैं। साथ ही वोट का अंतर केवल पांच फीसदी है।

उन्होंने आगे कहा कि त्रिपुरा में भाजपा की जीत के बावजूद उसकी पश्चिम बंगाल और ओडिशा में जीत आसान नहीं होगी। भाजपा को कर्नाटक, राजस्थान और मध्यप्रदेश में हार का सामना करना पड़ेगा। जबकि गुजरात में उनके लिए नैतिक हार थी।

TOPPOPULARRECENT