जात पात से सम्बंधित सोच नहीं बदली तो अपना लुंगी बौद्ध धर्म: मायावती

जात पात से सम्बंधित सोच नहीं बदली तो अपना लुंगी बौद्ध धर्म: मायावती
Click for full image

आजमगढ़: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने आज केंद्र और राज्य सरकारों को दलित और अल्पसंख्यक विरोधी करार देते हुए कहा कि देश में जात पात वाली सोच में बदलाव नहीं आया तो वह डॉक्टर भीम राव अम्बेडकर की तरह बौध धर्म अपना लेगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

मायावती ने यहां कार्यकर्ताओं की बैठक में कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार के सत्ता में आने के बाद से दलित, पिछड़े और अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों का जबरदस्त शोषण हो रहा है और उन्हें परेशान किया जा रहा है। भाजपा खास तौर से पिछड़े अल्पसंख्यक समुदाय की दुश्मन है और उन्हें गुमराह भी किया जा रहा है। इस बैठक में एक खास बात यह रही कि हमेशा समाजवादी पार्टी का विरोध करने वाली बसपा अध्यक्ष ने आज सपा के खिलाफ एक शब्द भी नहीं कहा।

उन्होंने कहा कि देश में धर्म के ठेकेदारों ने सामाजिक असमानताओं, भेदभाव और जात पात से संबंधित अपनी तंग मानसिकता में बदलाव नहीं किया तो बाबा साहब डॉक्टर भीम राव अम्बेडकर की तरह वह भी हिन्दू धर्म छोड़कर बौध धर्म अपना लेंगी।

उनहोंने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कामों की आलोचना करते हुए कहा कि योगी को मंदिरों में पूजा पाठ से फुर्सत नहीं है तो वह राज्य की तरक्की क्या करेंगे। पूर्वांचल से सम्बन्ध रखने के बावजूद उनकी इस क्षेत्र के विकास पर कोई ध्यान नहीं है।

Top Stories