फिल्म इंडस्ट्री ‘पद्मावती’ के विरोध के सिलसिले में IFFI का बहिष्कार करे: शबाना आज़मी

फिल्म इंडस्ट्री ‘पद्मावती’ के विरोध के सिलसिले में IFFI का बहिष्कार करे: शबाना आज़मी
Click for full image

नई दिल्ली अभिनेत्री शबाना आजमी ने फिल्म ‘पद्मावती’ की विरोध कर रहे लोगों द्वारा फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, निर्देशक संजय लीला भंसाली और अन्य लोगों को मिल रही धमकियों पर नाराजगी ज़ाहिर किया है। उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री से गोवा में आयोजित 48 वें’ भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) का बहिष्कार करने की अपील की है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सुश्री आज़मी ने कई बार ट्वीट किया है और फिल्म से संबंधित विवाद और उससे जुड़े लोगों को मिल रही धमकियों पर गंभीर आपत्ति जताई है। उन्होंने लिखा है कि सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी भारतीय फिल्म उद्योग के देश के लिए किए गए सहयोग की बदौलत ही आईएफएफआई आयोजित करने में सफल हुई हैं। लेकिन फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को खुलेआम मिल रही धमकियों के बावजूद सरकार की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

उन्होंने 20 से 28 नवंबर तक गोवा में आयोजित होने वाले 48 वें आईएफएफआई के बहिष्कार की अपील करते हुए कहा कि यह फिल्म महोत्सव वास्तव में ऐसा है, जब 1989 में थिएटर से जुड़े सफदर हाशमी की हत्या के बाद एचकेएल भगत और कांग्रेस ने दिल्ली में आईएफएफआई आयोजित किया था।

पद्मावती फिल्म को पहली दिसंबर को रिलीज होनी है और राजपूत वर्ग रानी पद्मिनी के फिल्म में कथित तौर पर चरित्र हनन को पेश किए जाने के संबंध में लगातार विरोध कर रहा है। राजपूत करनी सेना ने दीपिका पादुकोण की नाक को काटने और फिल्म को को रिलीज़ न होने तक की धमकी दी है।

Top Stories