फिर ट्रेन में भीड़ का शिकार हुआ मुसलमान, इस बार बिहार में इमाम पर जानलेवा हमला

फिर ट्रेन में भीड़ का शिकार हुआ मुसलमान, इस बार बिहार में इमाम पर जानलेवा हमला
Click for full image

बिहार के गया से भागलपुर जा रहे एक इमाम पर ट्रेन में हमला करने का मामला सामने आया है। इमाम के साथ पहले भीड़ ने मारपीट की और फ़िर उसे कम्पार्टमेंट के बाहर धकेल दिया।

भीड़ का शिकार हुए गुलज़ार अहमद मूल रूप से भागलपुर के रहने वाले हैं और गया की एक मस्जिद में इमामत करते हैं।

गुलज़ार ने बताया कि जब मैं ट्रेन में जाकर बैठा तो कम्पार्टमेंट काफी खाली था। धीरे-धीरे भीड़ बढ़ने लगी। इस बीच एक जवान आदमी मेरे पास आया और बिना किसी कारण के मेरा कॉलर पकड़कर खींचने लगा।

ऐसा करने से जब मैं नीचे गिर गया, तो वहां बैठे दूसरे लोग चिल्लाने लगे। ‘मारो, मारो’ (उसे मार डालो)।

बाद इसके ट्रेन में बैठी कुछ महिलाओं ने भीड़ को मुझे छोड़ने का अनुरोध किया। हालाँकि महिलाओं के कहने पर भीड़ ने मुझे छोड़ दिया लेकिन फिर कुछ यात्री चिल्लाने लगे कि इसका मोबाइल ले लो और कपड़े फाड़ डालो।

इस दौरान मैं बिलकुल चुप रहा। क्योंकि अगर मैं कुछ कहता तो शायद मेरा हाल जुनैद से भी बदतर होता।

जुनेद पर हमला तो थोड़े से लोगों के समूह ने किया था, लेकिन जिस ट्रेन में उस वक़्त मैं था, वहां पूरी ट्रेन ने मुझे मारना था। हर कोई चिल्ला रहा था कि मुसलमान को सीट पर बैठने का कोई अधिकार नहीं है। इसे यहाँ से निकालो।

इसके बाद मेरा सामान फेंक दिया और मुझे आपातकालीन निकास से बाहर निकाल दिया। मैं किसी तरह से किसी और कम्पार्टमेंट में चढ़ा और खिड़की पर लटकते हुए सफ़र तय किया।

 

 

Top Stories