Monday , December 18 2017

389 करोड़ की लागत से बना बांध सीएम नीतीश कुमार के उद्घाटन करने से 15 घंटे पहले ही टूटा

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिस डैम का उद्घाटन करने वाले थे वो उद्घाटन के एक दिन पहले ही टूट गया । भागलपुर में बीते 40 साल से बन रही बटेश्वर स्थान गंगा पंप नहर योजना का बांध उदघाट्न के पहले ही टूट गया ।

मंगलवार शाम को बांध टूटा लेकिन राहत की बात ये रही कि बांध का पानी ग़ांव की तरफ नहीं आया । ये बांध कहलगाँव एनटीपीसी आवासीय एरिया सीआईएसएफ क्वाटर के नजदीक में करीब छह फीट टूटा है। एक बार जब नहर का पानी जवानों के क्वार्टर में घुसने लगा तो वहां अफरातफरी मच गई। बुधवार को नीतीश कुमार इसका उद्घाटन करने वाले थे ।

 

इस योजना पर 389. 31 करोड़ रुपए खर्च हुए है । पीरपैंती के विधायक रामविलास पासवान ने बांध टूटने के लिए इंजीनियर और ठेकेदार के गठजोड़ को ज़िम्मेदार ठहराया है । यह योजना लिफ्ट सिंचाई दर्जे की योजना है।

इस योजना से भागलपुर ज़िले की 18620 हेक्टेयर और झारखंड के गोड्डा ज़िले की 22658 हेक्टेयर जमीन की सिंचाई हो सकेगी। यानि बिहार झारखंड दो राज्य को फायदा होगा। शुरुआत में यह योजना 13.88 करोड़ रुपए की थी। 1977 में योजना आयोग ने इसकी मंजूरी दी थी।

 

बांध की दीवार टूटने से ज़िले के प्रशासनिक अधिकारियों की नींद उड़ा दी है। और सभी में हड़कंप मचा है। और कोई भी अधिकारी शर्म से फोन रिसीव नहीं कर रहा। कहलगाँव के अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर इस खबर की पुष्टि की है ।

 

389. 31 करोड़ रुपए की लागत से बने बांध का यूं भरभराकर टूट जाना साफ़ करता है कि इस परियोजना में कितना घोटाला हुआ है । बुधवार को सीएम नीतीश कुमार बांध का उद्घाटन करने वाले थे । सूत्रों के मुताबिक सीएम का कार्यक्रम रद्द हो गया है ।

TOPPOPULARRECENT