Tuesday , September 25 2018

लाल किले से पीएम मोदी को याद आया तीन तलाक, बोले- मुस्लिम बेटियों को हक दिलाकर रहूंगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन तलाक विधेयक संसद में पारित न हो पाने के लिए विपक्ष को एक बार फिर जिम्मेदार ठहराते हुए आज कहा कि वह मुस्लिम महिलाओं को उनका हक दिलाकर रहेंगे।

मोदी ने 72 वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले के प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए तीन तलाक को मुस्लिम महिलाओं के साथ अन्याय करार दिया। उन्होंने कहा कि तीन तलाक की कुरीति ने मुस्लिम बेटियों के जीवन को तबाह कर दिया है। जिनको तलाक नहीं मिला है वे भी इसके दबाव में गुजारा कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार इन महिलाओं को इस कुरीति से मुक्ति दिलाने के लिए संसद में कानून बनाना चाहती थी इसके लिए विधेयक लाया गया लेकिन संसद के इस सत्र में भी उसे पारित नहीं कराया जा सका क्योंकि कुछ लोग इसे पारित नहीं होने देना चाहते। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं देश की माताओं, बहनों और मुस्लिम बेटियों को विश्वास दिलाता हूं कि उनके न्याय और हक को पूरा करने में कुछ भी कमी नहीं रखुंगा। उनकी आशाओं और आकांक्षाओं को पूरा करके रहूंगा।

सरकार तीन तलाक पर रोक लगाने के लिए संसद में विधेयक लाई थी जिसे लोकसभा ने पारित कर दिया था लेकिन विपक्ष की कुछ आपत्तियों के कारण इसे पिछले बजट सत्र में राज्यसभा में पारित नहीं कराया जा सका था। इसके बाद मानसून सत्र के दौरान केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विधेयक में तीन संशोधन किए और सरकार इसे इस सत्र में पारित कराना चाहती थी लेकिन विपक्ष के साथ सहमति न बनने के कारण इसे राज्यसभा में चर्चा के लिए नहीं लाया जा सका। इस तरह यह विधेयक एक बार फिर अटक गया।

TOPPOPULARRECENT