मुस्लिम देशों के संगठन OIC में जम्मू-कश्मीर का जिक्र: भारत ने नाराज़गी जताई!

, ,

   

इस्लामिक सहयोग संगठन यानी ओआईसी के प्रस्ताव में जम्मू-कश्मीर के जिक्र पर भारत ने नाराजगी जाहिर की है। 

ADVERTISEMENT

आज तक पर छपी खबर के अनुसार, भारत ने इस अनुचित करार देते हुए ओआईसी को देश के आंतरिक मसलों में दखल ना देने की सलाह दी है।

ओआईसी की बैठक में जम्मू कश्मीर के मसले के जिक्र पर 29 नवंबर को भारत ने कहा कि, हम कश्मीर के मसले को सिरे से खारिज करते हैं और मीटिंग में रखे गए तथ्य गलत, भ्रामक और अनुचित थे।

हमने हमेशा से यह उम्मीद की है कि इस्लामिक सहयोग संगठन का भारत के आंतरिक मसलों को लेकर कोई स्टैंड नहीं है। इसमें जम्मू कश्मीर का मसला भी शामिल है जो भारत का अभिन्न हिस्सा है।

भारत ने पाकिस्तान को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यह निराशा भरा है जिस तरह से ओआईसी अभी भी ऐसे देश के बहकावे में आकर भारत विरोधी प्रचार में शामिल हो रहा है जिसका धार्मिक सहिष्णुता, कट्टरपंथ और अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न को लेकर एक घृणित रिकॉर्ड है।

ADVERTISEMENT

भारत ने ओआईसी को भविष्य में ऐसे मसलों से बचने की सलाह दी है। ओआईसी की विदेश मंत्रियों की परिषद (सीएफएम) के 47वें सत्र में जम्मू-कश्मीर को लेकर भारत की नीतियों का जिक्र किया गया था।

गौरतलब है कि नाइजर की राजधानी नियामी में इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) के विदेश मंत्रियों की दो दिवसीय बैठक शुक्रवार को शुरू हुई।

ओआईसी में 57 इस्लामिक देश शामिल हैं जिसका नेतृत्व सऊदी अरब करता है।

जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 में बदलाव के बाद से ही पाकिस्तान लगातार कश्मीर मसले को लेकर मीटिंग बुलाने की मांग करता रहा है।

साभार- आज तक

ADVERTISEMENT