रेप मामले में पंचायत ने जबरन करवाया समझौता, जुर्माने की राशि से की पार्टी

रेप मामले में पंचायत ने जबरन करवाया समझौता, जुर्माने की राशि से की पार्टी

छत्तीसगढ़: छत्तीसगढ़ के जनजाति बहुल जशपुर जिले में पंचायत की एक बहुत ही शर्मनाक फरमान सामने आया है। पंचायत ने पहले रेप पीड़िताओं के परिजनों से आरोपियों का समझौता करा दिया और बाद में मुआवजे की राशि से पूरे गांव के लोगों के लिए मटन पार्टी का आयोजन कर दिया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

जानकारी के मुताबिक, तीनों लड़कियों के परिजन 5 जुलाई की शाम को उनके आने का इंतजार कर रहे थे। लेकिन वे घर नहीं पहुंचीं। इसी दौरान गांव का एक युवक उस जगह पहुंच गया, जहां तीनों लड़कियों के साथ रेप हो रहा था।

घटना के बाद पीड़िता के घरवाले रेप की शिकायत दर्ज कराने जब लड़कियों को पुलिस स्टेशन लेकर जा रहे थे, तभी समुदाय के मुखिया ने उन्हें पंचायत के लिए बुला लिया। रेप का शिकार हुई बहनों के पिता ने विरोध जताते हुए कहा कि वह पुलिस में एफआईआर दर्ज कराएंगे। लेकिन पंचायत को यह नागवार गुजरा और पंचायत के सदस्यों ने जबरन पीड़ित लड़कियों के पिता से समझौते करने का दबाव बनाया।

पंचायत ने केस को दबाने के लिए पहले तो रेप करने वाले तीनों आरोपियों पर 10-10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया। लेकिन परिजनों को जब यह पता चला कि पंचायत ने रेप के आरोपियों से मिली जुर्माने की रकम से एक मटन पार्टी की दावत में सभी गांववालों को आमंत्रित किया है। इस बात को लेकर पीड़ित पक्ष नाराज हो गए।

Top Stories