Sunday , September 23 2018

इंदौर रिलीजन कॉन्क्लेव में बोले मौलाना मदनी : देश के मुसलमानों के लिए भारत अच्छी जगह

इंदौर। जमीयत उलेमा-ए-हिन्द के महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने कहा कि धर्मनिरपेक्षता भारत के डीएनए में है। यहां सांप्रदायिकता चल ही नहीं सकती। देश के मुसलमानों के लिए भारत से अच्छी जगह कोई हो ही नहीं सकती। इंदौर रिलीजन कॉन्क्लेव में ‘धर्म है तो अधर्म क्यों’ सत्र को संबोधित करते हुए मौलाना ने कहा कि हमने अपनी आंखों में अखंड भारत का ख्वाब सजाया है। हमने भारत को चुना है।

यहां की मिट्‍टी में जो खुशबू है वह बाहर के फूलों में भी नहीं है। दूसरे देशों के मुकाबले यहां के मुसलमान ज्यादा अच्छी स्थिति में हैं। गंगा-जमुनी संस्कृति इस देश की सच्चाई है। उन्होंने कहा कि धर्म प्यार और सम्मान करना सिखाता है। यदि आपको इस्लाम अजीज है तो सनातन का सम्मान करें और सनातन अजीज है तो इस्लाम का सम्मान करें। उन्होंने कहा कि मानवता और सच्चाई की कोई सरहद नहीं होती।

यदि धर्म हमारे भीतर है तो नफरत की गुंजाइश ही नहीं होती। धर्म सत्ता के लिए नहीं सत्य के लिए होता है। मौलाना ने कहा कि हम बच्चों को सपने तो दिखा रहे हैं, लेकिन उन्हें इंसानियत की तालीम नहीं दे रहे हैं। इससे सामाजिक विघटन हो रहा है। उन्होंने कहा कि भारतीय समाज और मुसलमानों के बीच एक-दूसरे को समझने की चीज खत्म हुई है।

TOPPOPULARRECENT