Thursday , August 16 2018

चश्मदीद का बयान : मौलाना को जय श्रीराम का नारा लगाने से पहले भी मारा गया

नागरी थाना क्षेत्र के दलादली चौक के पास नयासराय निवासी मौलाना अजहरुल इस्लाम और मोहम्मद इमरान के साथ मारपीट करने वाले पांच लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनमें लालगुटवा निवासी बबलू तिर्की, कमलेश महली, बबलू कुजूर, दिलीप कुजूर व हेहल निवासी सतीश सिंह शामिल हैं।

गौरतलब है कि रविवार की रात नयासराय निवासी मौलाना अजहरुल इस्लाम और मोहम्मद इमरान (दोनों भाई) रातू के अगडू गांव में तरावी पढ़ा कर घर लौट रहे थे. इसी दौरान उनके साथ मारपीट की गयी। नागरी पुलिस स्टेशन के अधिकारी प्रभारी राम नारायण सिंह ने कहा, ‘हमने पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। हमला अचानक था और इसके कारण का पता लगाया जा रहा है। मौलाना को जय श्रीराम का नारा लगाने के लिए कहा गया था, जिसकी जांच की जा रही है।

बार-बार प्रयासों के बावजूद रांची एसएसपी कुलदीवेप द्विवेदी से संपर्क नहीं किया जा सका। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि अभियुक्त ने अजहर-उल-इस्लाम पर हमला करना कबूल किया है। पीड़ित के बचपन के दोस्त मोहम्मद इमरान के मुताबिक, दिल्ली की मस्जिद में कार्यरत मौलाना रमजान पर घर आये हैं। हमलावरों ने अजहर पर हमला किया कि वह जय श्री राम कहने को बाध्य किया।

इमरान ने कहा, दलादली चौक पर रविवार की रात उन्होंने मौलाना काे रुकवाया और उनके साथ गाली-गलौज कर मारपीट की गयी। उनके पास हॉकी स्टिक और रॉड्स थे। इमरान ने कहा कि अजहर 30-40 किलोमीटर की रफ्तार से बाइक चला रहे थे कि उनमें से एक जय श्रीराम कहकर चिल्लाया था।

इमरान ने कहा, ‘इससे पहले कि हम कुछ महसूस कर सकें उनमें से एक ने हॉकी स्टिक उनके चेहरे पर मार दी। हम बाइक से गिर गए और उन्होंने अजहर को मारना शुरू किया। मैं भाग गया, उन्होंने थोड़ी देर मेरा पीछा किया लेकिन छोड़ दिया’। बाद में अजहर को पास के अस्पताल ले जाया। वहां से उन्हें रांची में मेडिकल अस्पताल में भेजा गया था।

TOPPOPULARRECENT