Friday , June 22 2018

इस मुस्लिम परिवार को सरकार से मदद नहीं मिली तो बनाया घास-फूस का शौचालय

अमेठी: उत्तरप्रदेश के अमेठी में एक मुस्लिम परिवार ने बिना सरकारी इमदाद के खुद ही घास-फूस के जरिये शीट बिठाकर शौचालय निर्माण करा कर मिसाल कायम की है। दरअसल यह मामला अमेठी जनपद के सिंहपुर विकास खण्ड अंतर्गत गांव गड़रिया डीह में रहने वाले एक गरीब मुस्लिम परिवार का है। जहाँ स्वच्छता की अनोखी मिसाल देखने को मिली है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

यहां एक गरीब मुस्लिम परिवार ने पैसे न होने के कारण खुद ही मेहनत-मजदूरी कर घास-फूस से शौचालय का निर्माण कर डाला। गांव गड़रिया डीह निवासी मुश्ताक अहमद मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं।

मुश्ताक अहमद की पत्नी हशरतुल बानो का कहना है कि प्रधान सहित कई अधिकारियो से लाख गुहार लगाने के बाद भी जब उनके परिवार को शौचालय की राशि नही उपलब्ध कराई गई तो उन्होंने स्वयं ही शौचालय का निर्माण कर डाला।

हशरतुल बानो का कहना है कि अब उनके परिवार का कोई सदस्य खुले में शौच नहीं जाता है और शौचालय बनाने का मकसद ये है कि हम लोग खुले में शौच न जाएं। मानना है कि इससे हमारी सुरक्षा भी बनी रहती है और हमें खुले में शौच भी नहीं जाना पड़ता।

बता दें कि आर्थिक रूप से लाचार मुश्ताक के परिवार का स्वास्थ्य के प्रति निष्ठा व लगन के साथ कराया गया यह कार्य समाज के अन्य लोगों के लिये अनुकरणीय बन गया है हौसले बुलंद हो तो राह हो जाती है।

TOPPOPULARRECENT