मध्य प्रदेश सरकार का छात्रों को फरमान, हाजिरी के दौरान कहना होगा ‘जय हिंद’

मध्य प्रदेश सरकार का छात्रों को फरमान, हाजिरी के दौरान कहना होगा ‘जय हिंद’

मध्यप्रदेश के स्कूलों में उपस्थिति दर्ज कराने के दौरान छात्रों को ‘यस सर या यस मैडम’ की जगह ‘जय हिंद सर व जय हिंद मैडम’ कहना होगा। इसका आदेश मंगलवार को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा जारी कर दिया गया। नए सत्र से प्रदेश के सभी सरकारी स्कूलों में यह नियम लागू होगा।

15 मई 2018 को जारी हुए इस आदेश में स्कूल शिक्षा के उप सचिव प्रमोद सिंह के हस्ताक्षर हैं। इसमें लिखा है कि प्रदेश में 1.22 लाख सरकारी स्कूल हैं। इन सभी स्कूलों में यह अनिवार्य किया जा रहा है कि जब शिक्षक हाजिरी लगाएंगे तो छात्रों को जय हिंद कहना होगा। सरकार ने यह फैसला इसलिए लिया है कि छात्रों के अंदर देशप्रेम की भावना जागृत हो।

यस सर की जगह ‘ जय हिंद ‘ बोलने का फरमान सबसे पहले सतना में जारी हुआ था। सितंबर 2017 की शुरुआत में सतना में यह फरमान जारी कर शिक्षा मंत्री विजय शाह ने कहा था कि यदि यह प्रयोग सतना में सफल रहा तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अनुमति से इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा।

इस आदेश को हालांकि अभी सिर्फ सरकारी स्कूलों के लिए जरूरी किया गया है। शिक्षा मंत्री विजय शाह ने बताया कि जल्द ही इसे निजी स्कूलों में भी अनिवार्य किया जाएगा।

Top Stories